PM मोदी को सुरक्षा देगी नई कार:AK-47 की गोलियां और धमाके बेअसर, गैस अटैक भी हो जाएगा फेल

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली l प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काफिले में मर्सिडीज की नई कार शामिल हुई है। पीएम की सुरक्षा के लिहाज से इस नई कार को लाया गया है। इसका मॉडल नंबर मर्सिडीज-मेबैक S650 गार्ड है। यह कार कई शानदार और हाईटेक फीचर्स से लैस है, लेकिन इसकी सबसे खास बात है कि इस पर गोलियों और बम के धमाके का भी असर नहीं होता है। हाल ही में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की भारत यात्रा के दौरान पीएम मोदी को इस कार में पहली बार देखा गया था। मोदी की इस नई कार में क्या-क्या खास है, चलिए जानते हैं।

मोदी की नई मर्सिडीज-मेबैक S650 गार्ड की सेफ्टी से जुड़ी खास बातें :

इस कार में हाई लेवल सेफ्टी प्रोटेक्शन दिया गया है। कार के विंडो ग्लास और बॉडी शेल इतने मजबूत हैं कि इस पर AK-47 जैसी खतरनाक राइफल की गोलियां भी बेअसर हैं।

कार को एक्सप्लोसिव रेसिस्टेंट व्हीकल (ERV) 2010 रेटिंग मिली है। इसमें बैठा शख्स महज 2 मीटर की दूरी पर होने वाले 15 किलोग्राम तक के TNT विस्फोट से भी सुरक्षित रह सकता है।
गाड़ी की खिड़कियों पर पॉलीकार्बोनेट की परत होती है। इससे सुरक्षा की एक और लेयर मिलती है। गैस हमले की स्थिति में केबिन को अलग से एयर सप्लाई भी मिलती है।

मर्सिडीज-मेबैक S650 गार्ड में विशेष रन-फ्लैट टायरों पर भी चल सकती है। जिससे हमले के बाद टायरों के क्षतिग्रस्त होने की स्थिति में भी यह रफ्तार पकड़ सकती है।
कार के फ्यूल टैंक पर एक विशेष एलिमेंट का कोट दिया गया है, जो गोली लगने से हुए छेद को स्वचालित तरीके से सील कर देता है। यह बोइंग AH-64, अपाचे टैंक अटैक हेलिकॉप्टरों में इस्तेमाल होने वाली सामग्री से बना होता है।

मर्सिडीज-मेबैक S650 गार्ड का इंजन और इंटीरियर :
इंजन: इस हाई लेवल सिक्योरिटी कार में 6.0-लीटर ट्विन-टर्बो V12 इंजन लगा है। यह 516bhp की पावर और 900nm का टॉर्क जनरेट कर सकता है। कार की टॉप स्पीड 160 किमी प्रति घंटे है।

इंटीरियर: कार के अंदर मसाज सीट दी हुई है, जो सफर के दौरान पैसेंजर की थकान को दूर कर देगी। पैसेंजर जरूरत के हिसाब से लेगरूम को बढ़ा सकता है। कार की बैक सीटों में भी चेंजेज किए गए हैं।

मर्सिडीज-मेबैक S650 गार्ड की कीमत :
मर्सिडीज-मेबैक S650 गार्ड एक फेसलिफ्ट मॉडल है जिसकी कीमत करीब 12 करोड़ रुपए है। इसमें सिक्योरिटी लेवल किसी भी दूसरी कार की तुलना में सबसे ज्यादा है। मर्सिडीज-मेबैक ने पिछले साल भारत में S600 गार्ड को 10.5 करोड़ रुपए में लॉन्च किया था।

SPG तय करता है कारों का अपग्रेडेशन :
नई कार का अपग्रेडेशन आमतौर पर स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) द्वारा किया जाता है, जो देश के प्रधानमंत्री और उनके परिवार की सुरक्षा की जिम्मेदारी देखता है। SPG सुरक्षा आवश्यकताओं को देखते हुए निर्णय लेता है कि क्या राज्य प्रमुख को वाहन अपग्रेड की जरूरत है या नहीं। ऐसे में अब PM मोदी के काफिले में लगे वाहनों को अपग्रेड किया गया है। मर्सिडीज-मेबैक S650 गार्ड को रेंज रोवर वोग और टोयोटा लैंड क्रूजर से अपग्रेड किया गया है।

पीएम नरेंद्र मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब वे बुलेटप्रूफ महिंद्रा स्कॉर्पियो से सफर करते थे। 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्होंने BMW 7 सीरीज हाई-सिक्योरिटी एडिशन का इस्तेमाल किया। उसके बाद समय-समय पर उनकी सुरक्षा को देखते हुए कार लगातार अपग्रेड होती रही।

%d bloggers like this: