चीन के दुष्प्रचार पर भारत का पलटवार:चीन के वीडियो के जवाब में भारत ने जारी किया फोटो; तिरंगे के साथ 30 सशस्त्र भारतीय सैनिक LAC पर तैनात

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली l नए साल के मौके पर गलवान में भारतीय तिरंगा लहराया गया। इसकी एक तस्वीर सामने आई है, हालांकि अभी तक इस तस्वीर की पुष्टि आर्मी ने नहीं की है। न्यूज एजेंसी ने सिक्योरिटी सूत्रों के हवाले से दो तस्वीरें जारी की हैं। तस्वीरों में सेना के 30 जवान तिरंगे के साथ नजर आ रहे हैं। जवान हथियार लिए हुए हैं। एक तिरंगा भारतीय चौकी पर लहरा रहा है और दूसरा तिरंगा जवानों के हाथों में है।

यह तस्वीरें उस वीडियो के जारी होने के बाद सामने आई हैं, जिनमें PLA के सैनिक गलवान में अपने इलाके में चीनी ध्वज फहरा रहे हैं और राष्ट्रगान गा रहे हैं। अब भारतीय जवानों की तस्वीरों को गलवान में चीन के दुष्प्रचार के जवाब के तौर पर देखा जा रहा है। जिनमें LAC पर भारतीय सशस्त्र जवान तैनात नजर आ रहे हैं I

रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारतीय सेना और चीनी जवानों ने पश्चिमी लद्दाख में एक-दूसरे को मिठाइयां बांटीं। हॉट स्प्रिंग्स, डेमचोक, नाथूला और कोंगरा लॉ इलाके में दोनों ओर से मिठाइयों का आदान-प्रदान किा गया।

चीनी सोशल मीडिया पर वीडियो जारी हुआ: चीन के एक वेरिफाइड सोशल मीडिया अकाउंट से गलवान में चीनी झंडा फहराते हुए वीडियो पोस्ट किया गया था। कैप्शन में लिखा था- 2022 के पहले दिन गलवान घाटी पर चीन का झंडा लहरा रहा है। यह झंडा खास है, क्योंकि इसे एक बार बीजिंग के तियानमेन स्क्वायर पर भी फहराया गया था।

राहुल ने मोदी से जवाब मांगा: इसके बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने वीडियो सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर लिखा था- गलवान पर हमारा तिरंगा ही अच्छा लगता है। चीन को जवाब देना होगा। मोदी जी, चुप्पी तोड़ो।

भारतीय सेना ने जवाब दिया: चीनी वीडियो पर विवाद बढ़ने के बाद भारत ने कहा कि चीन ने गलवान घाटी के जिस इलाके में झंडा लगाया और फहराया, वो इलाका हमेशा से उसके ही कब्जे में रहा है और इस क्षेत्र को लेकर कोई नया विवाद नहीं है। भारतीय सेना से जुड़े सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है।

%d bloggers like this: