संघ के वरिष्ठ प्रचारक विनायक राव कानितकर ने किया स्वर्गीय मोती लाल जालान की असमिया पुस्तक ” संघर पथ – मूर जीवन यात्रा ” का विमोचन

थर्ड आई न्यूज

गुवाहाटी I राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के निष्ठावान स्वयंसेवक लोकतंत्र सेनानी स्वर्गीय मोती लाल जालान द्वारा लिखित हिंदी पुस्तक संघ की डगर – मेरी जीवन यात्रा का असमिया अनुवाद संघर पथ – मूर जीवन यात्रा का विमोचन नागपुर से पधारे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक विनायक राव कानितकर ने किया। उन्होंने अपने संबोधन में बताया कि मोती लाल जी एक ध्येय निष्ठ कार्यकर्ता थे, जिन्होंने राष्ट्र के विकास के लिए अपना सम्पूर्ण जीवन समर्पित कर दिया था। पुस्तक के संपादक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्र बौद्धिक प्रमुख शंकर दास कलिता ने बताया कि अपने जीवन को तिल तिल जलाकर मोती जी ने समाज और राष्ट्र की सेवा की है, उनके बाल्य काल से लेकर आपातकाल में उन्हें दी गई यातना तथा जीवन के अंत समय तक मोती जी के राष्ट्र समर्पित जीवन का जिक्र उनकी पुस्तक में मिलता है। कार्यक्रम के आमन्त्रित वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के असम क्षेत्र – सह क्षेत्र प्रचारक बसिष्ठ बुजर बरुआ ने कहा कि सिद्धांत के साथ समझोता ना कर आदर्श जीवन जीने वाले व्यक्ति थे मोती लाल जी जालान I उनका जीवन सदैव वर्तमान एवं आने वाली पीढ़ियों के लिए पाथेय साबित होगा, आने वाली पीढ़ी तक उनके जीवन का आदर्श प्राप्त हो, इसी लिए यह पुस्तक हिंदी से असमिया में अनुवाद कर प्रकाशित की गई है ताकि असम के जन साधारण तक उनकी जीवन यात्रा का वृतांत प्राप्त हो।
कार्यक्रम की अध्यक्षता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महानगर संघचालक गुरु प्रसाद मेधी ने की । उन्होंने भी स्वर्गीय मोती लाल जी के साथ के उनके संस्मरण को याद किया और बताया कि युवा पीढ़ी उनके जीवन के बारे में जाने इसी लिए उन्होंने इस पुस्तक का हिंदी से असमिया में अनुवाद स्वयं किया। कार्यक्रम में असम के प्रसिद्ध लोक गीत गायक सरत राग ने माधव देव रचित बोर गीत प्रस्तुत कर सभी को मंत्र मुग्ध कर दिया। स्वर्गीय मोती लाल जालन जी की धर्म पत्नी श्रीमती रमा जालान का कार्यक्रम में आयोजकों द्वारा फुलाम गमछा से अभिनंदन किया गया। उनके पुत्र पंकज जालान जो कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के गुवाहाटी महानगर के सह कार्यवाह है,नीरज जालान,पुत्र वधु पूनम जालान, नेहा जालान भी कार्यक्रम में उपस्थित थे। धन्यवाद ज्ञापन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महानगर कार्यवाह शंख पाणी भरालि ने किया तथा संचालन संघ के महानगर बौद्धिक प्रमुख अरूप बुजर बरुआ ने किया। वन्दे मातरम् की प्रस्तुति राष्ट्र सेविका समिति की बहनों द्वारा कि गई। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ गुवाहाटी महानगर द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में संघ के नए पुराने स्वयंसेवक एवं समाज के प्रबुद्ध नागरिक उपस्थित थे।

%d bloggers like this: