संसद भवन पहुंचा कोरोना वायरस : 400 से ज्यादा कर्मचारी संक्रमित, दैनिक मामले 21 फीसदी तक बढ़े

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली l कोरोना एक बार फिर पूरी दुनिया में कोहराम मचा रहा है। राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसी बीच शनिवार को संसद भवन में जबरदस्त कोरोना विस्फोट हुआ। दरअसल छह और सात जनवरी को संसद में काम करने वाले कर्मचारियों, सुरक्षाकर्मियों का कोविड-19 जांच के लिए सैंपल लिया गया था, जिसमें से 400 से ज्यादा लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

दैनिक मामले 21 फीसदी तक बढ़े :
देशभर में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है। शनिवार को कोरोना के 1,41,986 नए मामले सामने आए। नए मामले आने के बाद देशभर में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 4,72,169 हो गई है। इससे पहले शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 1,17,100 मामले सामने आए थे। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, देश में पिछले 11 दिन में कोरोना के दैनिक मामले 21 फीसदी तक बढ़ गए हैं। वहीं दिल्ली में कोरोना से सात लोगों की मौत हो गई। एक दिन में संक्रमण के मामलों में तीन हजार की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। दिल्ली में फिलहाल कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 48,178 पर पहुंच गई हैं।

दिल्ली पुलिस ने गश्त बढ़ाई, सप्ताहांत कर्फ्यू के लिए अवरोधक लगाए :
दिल्ली पुलिस ने कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए सप्ताहांत कर्फ्यू के मद्देनजर गश्त तेज कर दी है, अवरोधक लगा दिए गए हैं और लोगों को चेतावनी दी है कि यदि वे कर्फ्यू आदेश का उल्लंघन करते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। हालांकि, बारिश और कड़ाके की ठंड के कारण शनिवार को ज्यादातर दिल्लीवासी घरों के अंदर ही रहे।
कर्फ्यू शुक्रवार रात 10 बजे शुरू हुआ, जो सोमवार सुबह पांच बजे तक लागू रहेगा। रात के पहले पहर तक बारिश जारी रही, जिससे शहर में ज्यादातर सड़कें सूनी रहीं।कर्फ्यू के दौरान ई-पास जारी करने के संबंध में कुछ शिकायतें थीं और नेशनल रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एनआरएआई) ने कहा कि ई-पास की समस्या के कारण होम डिलीवरी बंद करने के लिए मजबूर होना पड़ सकता है।

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले :
संक्रमण के मामलों में एक बार फिर से महाराष्ट्र टॉप पर बना हुआ है। पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोरोना के 41,434 नए मामले दर्ज किए गए। इस दौरान 13 लोगों की मौत भी हुई। यही वजह है कि महाराष्ट्र में उद्धव सरकार ने सख्त पाबंदियां लागू कर दी हैं।

नई पाबंदियों को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, “मैं दोहराता हूं कि हम अनावश्यक भीड़ को कम करना चाहते हैं लेकिन कोई लॉकडाउन नहीं करना चाहते हैं।” उन्होंने कहा, कोई भी प्रतिबंध तब तक प्रभावी नहीं होगा जब तक कि हम सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करते। मेरा आपसे अनुरोध है कि लक्षणों के प्रति सतर्क रहें और जल्द से जल्द मेडिकल सलाह लें।

महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन के 133 नए मामले :
महाराष्ट्र में शनिवार को कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के 133 नए मामले सामने आए, जिससे राज्य में ऐसे मामलों की कुल संख्या बढ़कर 1,009 हो गई। यह जानकारी स्वास्थ्य अधिकारियों ने दी।
अधिकारियों ने कहा कि राज्य में अब तक 439 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दे दी गई है। अधिकारियों ने कहा कि ओमिक्रॉन वैरिएंट के नए मामलों में, पुणे शहर से 118, पिंपरी-चिंचवाड़ से आठ, पुणे ग्रामीण से तीन, वसई-विरार से दो और अहमदनगर और मुंबई से एक-एक मामले सामने आए हैं। मुंबई में राज्य में अब तक सबसे अधिक 566 ओमिक्रॉन मामले सामने आए हैं, इसके बाद पुणे शहर में 201 मामले सामने आए हैं।

%d bloggers like this: