स्वर कोकिला का हेल्थ अपडेट:डॉक्टर ने बताया-लता मंगेशकर को देखभाल की जरूरत, उनकी हालत अभी भी पहले जैसी

थर्ड आई न्यूज

स्वर कोकिला लता मंगेशकर कोरोना से संक्रमित होने के बाद इन दिनों मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में आईसीयू में भर्ती हैं। अस्पताल हर दिन बयान जारी कर उनके हेल्थ को लेकर अपडेट देता है। अब रविवार को भी अस्पताल में लता मंगेशकर का इलाज कर रहे डॉक्टर प्रतीत समधानी ने बयान जारी कर बताया है कि लता मंगेशकर को देखभाल की जरूरत है, इसलिए वे कुछ और दिनों तक आईसीयू में डॉक्टरों की निगरानी में ही रहेंगी।

उनकी हालत अभी भी पहले जैसी ही है: प्रतीत समधानी
डॉक्टर प्रतीत समधानी ने बताया, “सिंगर लता मंगेशकर को देखभाल की जरूरत है, इसलिए वह कुछ और दिनों तक आईसीयू में डॉक्टरों की निगरानी में ही रहेंगी। उनकी हालत अभी भी पहले जैसी ही है। किसी को भी उनसे मिलने की इजाजत नहीं है।” 92 साल की लता मंगेशकर को कोरोना और निमोनिया के चलते पिछले हफ्ते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें कोरोना के हल्के लक्षण भी थे।

डॉक्टर ने फैंस से कहा- उनकी रिकवरी की दुआ करें :
एक दिन पहले डॉक्टर प्रतीत ने लता मंगेशकर के हेल्थ अपडेट में बताया था कि वे अभी भी आईसीयू में ऑब्जर्वेशन में हैं। हमें इंतजार करना होगा, वे कुछ दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहेंगी। साथ ही डॉ. प्रतीत ने लता मंगेशकर के फैंस से उनके जल्द से जल्द रिकवर होने के लिए दुआ करने की अपील भी की थी।

पिछले कुछ साल से प्रतीत समधानी ही कर रहे हैं उनका इलाज :
डॉक्टर प्रतीत समधानी ही पिछले कुछ साल से लता मंगेशकर का इलाज कर रहे हैं। स्वर कोकिला को 2 साल पहले नवंबर 2019 में भी सांस लेने में तकलीफ और निमोनिया होने के कारण अस्पताल में भर्ती किया गया था। तब वे 28 दिन तक अस्पताल में भर्ती रही थीं।

लता मंगेशकर को घर के स्टाफ मेंबर के कारण हुआ कोरोना :
खास बातचीत में लता मंगेशकर के म्यूजिक लेबल ‘एलएम म्यूजिक’ के CEO मयुरेश पई ने बताया था कि घर में काम करने वाले स्टाफ मेंबर्स सामान लेने बाहर आते-जाते रहते हैं। उनमें से ही एक स्टाफ मेंबर संक्रमित हो गया था। लता दीदी उसके संपर्क में आई थीं, इसलिए उनका कोविड टेस्ट कराया गया था, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

मयुरेश पई ने आगे बताया था कि लता दीदी के परिवार में उनकी बहन उषा मंगेशकर और भाई हृदयनाथ मंगेशकर समेत किसी भी सदस्य को कोरोना नहीं हुआ है। लता मुंबई के पैडर रोड स्थित अपने घर में फैमिली के साथ रहती हैं। वे 2019 के बाद से घर से निकली नहीं हैं। किसी से मिलती-जुलती भी नहीं हैं।

लता मंगेशकर को 2001 में भारत रत्न से नवाजा गया था :
भारतीय सिनेमा के सबसे महान गायकों में से एक लता मंगेशकर ने 1942 में 13 साल की उम्र में अपने करियर की शुरुआत की थी। उन्हें संगीत की दुनिया में 80 साल हो चुके हैं। उन्होंने अपने करियर के दौरान कई भारतीय भाषाओं में 30,000 से ज्यादा गाने गाए हैं। अपने 7 दशक से अधिक के करियर में उन्होंने ‘अजीब दास्तां है ये’, ‘प्यार किया तो डरना क्या’, ‘नीला आसमान सो गया’ और ‘तेरे लिए’ जैसे कई यादगार गाने गाए हैं।

भारत की कोकिला के रूप में जानी जाने वाली गायिका को पद्म भूषण, पद्म विभूषण, दादा साहब फाल्के अवॉर्ड, कई राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों सहित कई पुरस्कारों और सम्मानों से नवाजा गया है। संगीत में उनके योगदान को देखते हुए 2001 में भारत सरकार ने उन्हें सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया था।

%d bloggers like this: