लगातार पांचवे दिन टूटा शेयर बाजार, सेंसेक्स 1550 अंक लुढ़का, निफ्टी 17100 के स्तर तक फिसला

थर्ड आई न्यूज

मुंबई I शेयर बाजार में गिरावट का दौर लगातार पांच दिनों से जारी है। सप्ताह के पहले कारोबारी दिन भी स्टॉक मार्केट के निवेशकों को भारी नुकसान उठाना पड़ा। कारोबार लाल निशान पर शुरू हुआ और दिनभर बुरी तरह से टूटता रहा। अंत में शेयर बाजार लाल निशान पर बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाले सेंसेक्स ने एक बार फिर बड़ी गिरावट देखी। यह 1546 अंक फिसलकर 57,491 के स्तर पर बंद हुआ। इसके साथ ही सोमवार का दिन नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी सूचकांक के लिए भी बेहद बुरा रहा। इसने कारोबार के दौरान 17,003 का निचला स्तर तक छू लिया।

निफ्टी में आई 468 अंक की गिरावट :
एनएसई का निफ्टी कारोबार के अंत में 468 अंक टूटकर 17,149 के स्तर पर बंद हुआ। इससे पहले कमजोर वैश्विक संकेतों के कारण शेयर बाजार लाल निशान पर खुला था। सेंसेक्स 181.51 अंक या 0.31 फीसदी टूटकर 58856 के स्तर पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक निफ्टी 61.70 अंक या 0.35 फीसदी की गिरावट के साथ 17555 पर खुला था। दिन के कारोबार के दौरान बीएसई का सेंसेक्स 1900 अंक तक टूटकर 57,164 के स्तर पर पहुंच गया था। जबकि निफ्टी ने 550 अंक की कमी के साथ 17003 के स्तर को छू लिया।

पांच दिनों की गिरावट पर नजर :
गौरतलब है कि भारतीय शेयर बाजार में लगातार पांच दिनों से गिरावट का सिलसिला जारी है। सप्ताह के पहले दिन सोमवार को शेयर बाजार में आई गिरावट इन पांच दिन में सबसे ज्यादा है। बीते दिनों में बंबंई स्टॉक एक्सचेंज के सूचकांक सेंसेक्स में आई गिरावट के आंकड़ों पर नजर दौड़ाएं तो पिछले मंगलवार को इसमें 554, बुधवार को 656, गुरुवार को 634 और शुक्रवार को 427 अंक की गिरावट देखने को मिली थी। आज सेंसेक्स सूचकांक के सभी 30 शेयर दिनभर लाल निशान पर कारोबार करते हुए नजर आए। कारोबार के दौरान नायका, जोमैटो और पेटीएम जैसी कंपनियों के शेयर सबसे ज्यादा टूटने वाले शेयरों में शीर्ष पर रहे।

निवेशकों को हुआ भारी नुकसान :
आपको बता दें कि सोमवार को बाजार खुलने के साथ ही लगभग 1126 शेयरों में तेजी आई थी, जबकि 1175 शेयरों में गिरावट और 131 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ था। आज आई गिरावट के चलते निवेशकों को लगभग 11 लाख करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है। बीते सप्ताह शुक्रवार को मार्केट कैप 270 लाख करोड़ रुपये था, जो सोमवार को घटकर 259 लाख करोड़ रुपये हो गया है। बजाज फाइनेंस, टेक महिंद्रा, टाटा स्टील, टाइटन और विप्रो के स्टॉक 4 फीसदी टूट गए। बता दें कि एक हफ्ते में ही मार्केट कैप 21 लाख करोड़ रुपये तक घट गया है।

%d bloggers like this: