U19 World Cup: फाइनल में इंग्लैंड के सामने होगा भारत, संयोग कर रहे हैं इशारा फिर चैंपियन बनेगी टीम इंडिया

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली l आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप खिताब कौन सी टीम अपने नाम करेगी इसका फैसला 5 फरवरी को हो जाएगा। 5 फरवरी को इंग्लैंड और भारत के बीच एंटीगा के सर विव रिचर्ड्स स्टेडियम में अंडर-19 वर्ल्ड कप 2022 का फाइनल मैच खेला जाना है। इस बार कुछ ऐसे संयोग हैं, जो इस ओर इशारा कर रहे हैं कि भारतीय कप्तान यश ढुल ही अंडर-19 वर्ल्ड कप ट्रॉफी उठाएंगे। अंडर19 वर्ल्ड कप में भारत के लिए दिल्ली के कप्तान काफी लकी साबित हुए हैं और उनके शतक जड़ना तो टीम के लिए और भी लकी रहा है। 2008 में दिल्ली के विराट कोहली ने टीम की अगुवाई की थी और ग्रुप स्टेज में शतक ठोका था फिर 2012 में दिल्ली के उन्मुक्त चंद ने टीम इंडिया की कमान संभाली थी और उन्होंने फाइनल मैच में सैंकड़ा ठोका था। इस बार दिल्ली के यश के हाथ टीम इंडिया की कमान है और वह सेमीफाइनल में शतक जड़ चुके हैं।

यश ढुल ने की विराट कोहली और उन्मुक्त चंद की बराबरी :
ये कुछ ऐसे संयोग हैं, जो इस ओर इशारा कर रहे हैं कि भारत ही इस बार का खिताब अपने नाम करेगा। इंग्लैंड और भारत दोनों ने ही अभी तक इस टूर्नामेंट में कोई मैच नहीं गंवाया है, ऐसे में दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल सकती है। इंग्लैंड और भारत दोनों का ही मजबूत पक्ष अभी तक बल्लेबाजी रहा है, ऐसे में फाइनल मैच में जो टीम बेहतर गेंदबाजी करती है, उसका पलड़ा भारी हो सकता है। ढुल की बात करें तो उन्होंने इस टूर्नामेंट में फ्रंट से टीम को लीड किया है और मुश्किल मौकों में धैर्य के साथ बल्लेबाजी कर टीम को संकट से उबारा है।

ऑस्ट्रेलिया को हराया टीम इंडिया ने शान से कटाया फाइनल का टिकट :
सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया ने 37 रनों तक दोनों सलामी बल्लेबाजों का विकेट गंवा दिया था, ऐसे में ढुल ने उप-कप्तान शेख रशीद के साथ मिलकर पारी को संभाला, शुरुआत में धीमी बल्लेबाजी कर विकेट पर टिकने के बाद ढुल ने बाद में खुलकर अपने शॉट्स खेले और 110 गेंद पर 110 रन बनाए। अंडर19 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया लगातार चौथी बार फाइनल में पहुंची है। भारत ने 2018 में आखिरी बार अंडर19 वर्ल्ड कप खिताब अपने नाम किया था, इसके बाद 2020 में भारत को खिताबी मुकाबले में बांग्लादेश के खिलाफ हार झेलनी पड़ी थी। भारत अगर फिर से यह खिताब जीतता है तो वह पहला ऐसा देश बन जाएगा जिसके खाते में पांच अंडर19 वर्ल्ड कप खिताब होंगे।

%d bloggers like this: