फैंसी बाजार से चंदा उठाकर बिहू मनाने से चीजों के दाम बढ़ेंगे ही: मुख्यमंत्री हिमंत

थर्ड आई न्यूज

गुवाहाटी. चंदा संस्कृति के ऊपर मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा का प्रहार बदस्तूर जारी है. आज उन्होंने कहा कि अगर असम के सभी गांव-शहर के लोग यह सोच ले कि फैंसी बाजार से चंदा उठाकर उन्हें बिहू मनाना है तो फिर चावल और अन्य आवश्यक वस्तुओं के दाम बढ़ेंगे ही. ऐसे में सरकारों को दोष देकर कोई फायदा नहीं. उन्होंने कहा कि मारवाड़ी के पैसे से बिहू या सरस्वती पूजा मनाने से असमिया समाज की इज्जत कहां बचती है. मुख्यमंत्री ने कहा कि आदर्श स्थिति तो यह होगी कि हम मारवाड़ी समाज से कहे कि वे अच्छे तरीके से बोहाग बिहू का आयोजन करें. बिहू के अवसर पर लाडू और पीठा बनाएं तथा हम उनके घरों में बिहू खाने जाएं और उनके द्वारा आयोजन किए जा रहे बिहू समारोह में शिरकत करें. उल्लेखनीय है कि भारतीय जनता पार्टी की ओर से सहयोग निधि संग्रह की जा रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि यह राशि केवल भाजपा के सदस्यों से ही संग्रहित की जाएगी. किसी व्यवसायी को सहयोग राशि देने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता. शर्मा ने कहा कि इतना ही नहीं, उन्होंने निर्देश दिया है कि राशि की सीमा सौ – डेढ़ सौ रुपए से ज्यादा नहीं हो सकती.

%d bloggers like this: