जय श्री राम का नारा लगाने वाली भीड़ के सामने अल्‍लाह हू अकबर का नारा लगाने वाली छात्रा को जमीयत देगा 5 लाख रुपए का इनाम

थर्ड आई न्यूज

बेंगलुरु I कर्नाटक में ह‍िजाब को लेकर संग्राम जारी है। मामले को लेकर जहां मंगलवार को हाई कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई तो वहीं सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें एक छात्रा जय श्री राम का नारा लगा रही भीड़ के सामने अल्‍लाह हू अकबर का नारा लगा रही थी। ऐसा करनी वाली छात्रा मुस्‍कान ही ह‍िम्‍मत की हर कोई दाद दे रहा है। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस छात्रा की तारीफ करते हुए उसे बहादुर बताया तो वहीं जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने छात्रा को पांच लाख रुपए इनाम देने की घोषणा की है।

जमीयत उलेमा-ए-हिंद के अध्यक्ष हजरत मौलाना महमूद असद मदनी ने छात्रा मुस्कान खान को बधाई देते हुए पांच लाख रुपये का नकद इनाम देने का ऐलान किया है। जमीयत उलेमा-ए-हिंद की ओर से जारी बयान के मुताबिक मौलाना मदनी ने कहा है कि अपने संवैधानिक और धार्मिक अधिकारों के लिए विरोध की तेज और गर्म हवा के सामने डट कर मुस्कान ने पूरे हौसले से मुकाबला किया। महात्मा गांधी कॉलेज उडुपी की बहादुर छात्रा बीबी मुस्कान खान पुत्री मोहम्मद हुसैन खान के उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं।

ओवैसी ने बताया बहादुर :
AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्‍कान को बहादुर बताया है। अपने ट्वीट में उन्‍होंने लिखा क‍ि मैं लड़की के मां-बाप को सलाम पेश करता हूं। इस लड़की ने मिसाल पेश की है। उस लड़की ने कई कमजोरों को पैगाम दिया है। जो काम उस लड़की ने किया वह बहुत हिम्‍मत का काम था। लड़की ने मिसाल साबित की है।

क्या है पूरा मामला
कर्नाटक काफी समय से ह‍िजाब पर विवाद चल रहा है। जनवरी में उडुपी के प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज में कुछ छात्राओं को हिजाब पहनने की वजह से कक्षा में प्रवेश नहीं दिया गया था। जिसके बाद ये छात्राएं कक्षा के सामने ही बैठ गई थीं। इस मामले को लेकर उडुपी की एक छात्रा रेशमा ने कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। याचिका में उन्होंने हिजाब पहनकर कक्षा में जाने की इजाजत मांगी है। कोर्ट इस पर सनवाई कर रहा है। मंगलवार को इस पर सुनवाई हुई है, बुधवार को फिर से कोर्ट सुनवाई करेगा।

%d bloggers like this: