बयान पर घमासान: एनएसयूआई ने किया हिमंत विश्व शर्मा के खिलाफ प्रदर्शन, राहुल गांधी पर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली I असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा की ओर से राहुल गांधी के ऊपर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी के विरोध में कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई ने विरोध प्रदर्शन किया। एनएसयूआई ने अपने मुख्यालय पर असम के सीएम के विरोध में नारे लगाएं। छात्रों ने शर्मा से इस्तीफे और माफी की भी मांग की।

क्या है पूरा मामला?
उत्तराखंड में एक चुनाव रैली के दौरान असम के सीएम शर्मा ने राहुल गांधी की ओर से सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगने और कोरोना के टीके के प्रभाव के बारे में बयान देने पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि क्या भाजपा ने कभी राहुल गांधी से इस बात का सबूत मांगा की वह पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बेटे हैं? शर्मा के इस बयान के बाद कांग्रेस पार्टी ने उनपर कड़ा निशाना साधा है।

हिमंत विश्व शर्मा के इस बयान की निंदा करते हुए एनएसयूआई के राष्ट्रीय सचिव नितिश गौर ने कहा कि असम के सीएम का बयान बहुत आपत्तिजनक है। यह पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी का अपमान है। उन्होंने आगे कहा कि एक उच्च पद पर आसीन व्यक्ति की ओर से ऐसी बयानबाजी शोभा नहीं देती। शर्मा को अपने बयान के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए और अपने पद से तुरंत ही इस्तीफा देना चाहिए। असम कांग्रेस ने भी शुक्रवार को मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा पर अपने विवादित बयानों से राज्य की छवि को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है।

%d bloggers like this: