बयान देकर फंस गए राहुल, असम प्रदेश भाजपा करेगी राजद्रोह का मामला दर्ज

थर्ड आई न्यूज

गुवाहाटी. संसद के बजट सत्र में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर बोलते वक्त भारत को एक देश के बजाय राज्यों का संघ बताना कांग्रेस के आला नेता राहुल गांधी के लिए भारी पड़ता दिखाई दे रहा है. इतना ही जैसे काफी नहीं था, राहुल ने पिछले सप्ताह एक ट्वीट किया था, जिसमें वे देश की विविधता की चर्चा करने का प्रयास कर रहे थे. उन्होंने लिखा कि कश्मीर से केरल और गुजरात से पश्चिम बंगाल तक भारत विभिन्न रंगों और विविधताओं से भरा हुआ है. उनके इस ट्वीट को भारतीय जनता पार्टी ने लपक लिया है. अब पार्टी उनके इन बयानों को आधार बनाकर राहुल गांधी के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने जा रही है.

वैसे सबसे पहले असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने उन पर पलटवार किया. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि राहुल गांधी को देश की सीमाओं की जानकारी नहीं है. हिमंत ने लिखा कि कोलकाता के आगे भी भारत है. वहीं, मणिपुर के मुख्यमंत्री एन वीरेन सिंह ने भी राहुल गांधी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि मणिपुर के चुनाव में कांग्रेस को लोगों से वोट मांगने का कोई हक नहीं है. कांग्रेस के आला नेता ने तो मणिपुर सहित सारे पूर्वोत्तर को भारत का अंग तक मानने से इनकार कर दिया. दूसरी ओर, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री विप्लव देब ने भी राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि पूर्वोत्तर के प्रति गांधी परिवार की इस मानसिकता के कारण ही इस समूचे क्षेत्र से पार्टी का सफाया हो गया है.

%d bloggers like this: