सिलचर में विहिप का दावा- लव-जिहाद की 2400 से अधिक पीड़ित महिलाओं ने हिंदू धर्म में की वापसी

थर्ड आई न्यूज

सिलचर I लव जिहाद के खिलाफ एक्शन में है विश्व हिंदू परिषद I विहिप ने दावा किया है कि संगठन ने तथाकथित लव जिहाद की शिकार 2400 महिलाओं को वापस हिंदू धर्म में परिवर्तित कर दिया है। विहिप नेता मिलिंद परांडे ने असम के सिलचर में सोमवार शाम को विहिप कार्यकर्ताओं की एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि भारत में हर साल 10000 से अधिक हिंदू महिलाओं को इस्लाम या ईसाई धर्म में परिवर्तित किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि लव-जिहाद एक साजिश का सिद्धांत है कि मुस्लिम पुरुष हिंदू महिलाओं को अलग-अलग तरीकों से शादी के लिए लुभाते हैं और उन्हें इस्लाम में परिवर्तित कर देते हैं। उन्होंने कहा, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना और केरल में हजारों हिंदू महिलाओं का जबरन धर्म परिवर्तन किया जा रहा है। इनमें से बड़ी संख्या में महिलाएं लव जिहाद की शिकार हैं।

परांडे ने विहिप की सिलचर जिला इकाई द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि लगभग सभी के पास जानकारी है लेकिन हमने एक्शन का फैसला लिया है। जब हमारी महिलाओं को फंसाया जा रहा है और सम्मानजनक जीवन से दूर किया जा रहा है तो यह हमारी जिम्मेदारी है।

उन्होंने आरोप लगाया कि हर साल भारत-बांग्लादेश सीमा के पास के इलाकों में हजारों गायों को मारा जाता है, उन्होंने दावा किया कि भारत में गायों को बचाने के लिए वीएचपी सबसे बड़ा संगठन है। परांडे ने कहा कि कुछ सर्वे के अनुसार, भारत बांग्लादेश सीमा पर हर साल हजार से अधिक गायों का वध किया जा रहा है। भले ही सरकार ने कुछ कानून लागू करके प्रतिबंधित किया है, लेकिन एक विशेष धर्म के लोग इसे गुप्त रूप से कर रहे हैं। विहिप कार्यकर्ता उन गायों को मारने से बचा रहे हैं।

%d bloggers like this: