पंजाब के सीएम के विवादित बोल:यूपी-बिहार के भइया पंजाब में नहीं करेंगे राज; चन्नी बोलते रहे, पास खड़ी प्रियंका ताली बजाकर मुस्कुराती रहीं

थर्ड आई न्यूज

लखनऊ I कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा उत्तर प्रदेश और पंजाब चुनाव में ‘खेला’ कर रहीं हैं। यूपी की जनसभाओं में वो खुद को यहां की बेटी बताती हैं। यहां की महिलाओं, युवाओं की बेरोजगारी के मुद्दों पर तीखी बहस करती हैं, लेकिन उनके ये तेवर सिर्फ यूपी बॉर्डर तक रहते हैं। पंजाब पहुंचने के बाद यही यूपी वाले उनके लिए बाहरी हो जाते हैं।

पंजाब में प्रचार के दौरान उन्होंने कहा कि पंजाब पंजाबियों का है… यहां कोई नई राजनीति नहीं मिलेगी। ये जो बाहर से आते हैं… उन्हें पंजाबियत सिखाइए। इस पर चन्नी माइक लेकर कहते हैं कि यूपी दे, बिहार दे, दिल्ली दे भइए आके इते राज नई करदे। इस पर बगल में खड़ी प्रियंका ताली बजाकर मुस्कुराती हैं और खुद भी नारे लगाने लगती हैं। प्रियंका दलित वोटर्स को लुभाने के लिए चन्नी के साथ रविदास जयंती पर वाराणसी भी पहुंच गई हैं।

रूपनगर में 15 फरवरी की रैली का है मामला :
यूपी वालों को भइए कहने का वाकया पंजाब के रूपनगर का है। 15 फरवरी को प्रियंका गांधी पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के साथ यहां रैली में पहुंची थीं। रैली के बाद वे मंच तक आईं। हाथों में माइक लेकर अपनी बात शुरू की। बोलीं- समझदारी का इस्तेमाल करो। चुनाव का समय है। लंबी-लंबी बातें नहीं कहना चाहती, लेकिन पंजाब के लोगों, बहनों-भाइयों, जो आपके सामने है, उसे ठीक से पहचानो। आपमें बहुत विवेक है। समझदारी है। उस समझदारी का इस्तेमाल करो।

प्रियंका यहीं नहीं रुकीं, उन्होंने आगे फिर कहा- पंजाब पंजाबियों का है। पंजाब को पंजाबी चलाएंगे। अपनी सरकार बनाओ। यहां कोई नई राजनीति नहीं मिलेगी। ये बाहर से जो आते हैं। आपके पंजाब में उन्हें सिखाइए पंजाबियत क्या है। पंजाब मेरी ससुराल है।

बस प्रियंका के इतना बोलते ही चन्नी अपने हाथ में माइक लेते हैं और कहते हैं- प्रियंका पंजाबियां दी बहू है। यूपी दे, बिहार दे, दिल्ली दे भइए आके इते राज नई कर दे। यूपी के भइयों को पंजाब में फटकने नहीं देना है। चन्नी के इतना कहते ही जो बोले सो निहाल के नारे लगते हैं। प्रियंका हंसती रहती हैं और खुद भी नारे लगाना शुरू कर देती हैं।

कल यूपी वालों को बाहरी बताने के बाद आज चन्नी और प्रियंका यूपी दौरे पर :
प्रियंका गांधी और पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी मंगलवार को यूपी वालों को बाहरी बताने के बाद बुधवार को यानी आज यूपी ही पहुंचे हैं। चन्नी रविदासिया पंजाबी हैं और रविदास जयंती के मौके पर वे वाराणसी स्थित रविदास मंदिर में पहुंचे हैं। पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी, सीएम योगी आदित्यनाथ के बाद कांग्रेस नेता राहुल और प्रियंका गांधी भी सीरगोवर्धनपुर स्थित रविदास मंदिर पहुंचे। सभी नेताओं ने दर्शन करके मत्था टेका और लंगर छका।

आइए आपको यूपी वालों के लिए ‘भइया’ कहने के मायने भी समझाते हैं…
दरअसल, महाराष्ट्र में बाल ठाकरे के दौर में यूपी-बिहार के लोगों को एक खास शब्द ‘भइया’ कहकर पुकारा जाने लगा था। तभी से यह एक शब्द यूपी-बिहार के लोगों के लिए गाली की तरह हो गया है। दूसरे राज्यों में यहां के शख्स को कोई भइया कह दे तो मारपीट की नौबत तक आ सकती है। इस सबके बावजूद पंजाब चुनाव के प्रचार में प्रियंका की मौजूदगी में यूपी के लोगों को भइया और बाहरी कहने का मामला सामने आया है।

%d bloggers like this: