जल्द लौटेंगे यूक्रेन में फंसे भारतीय:कीव से दिल्ली के लिए 22, 24 और 26 फरवरी को उड़ान भरेंगे विमान; 18,000 भरतीयों की होगी वतन वापसी

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली l यूक्रेन और रूस के बीच उपजा तनाव लगातार बढ़ रहा है। रूस कभी भी यूक्रेन की राजधानी कीव पर हमला कर सकता है। ऐसे में भारत सरकार ने अपने नागरिकों को वापस वतन लाने के लिए पहल की है। सरकार ने यूक्रेन की राजधानी कीव से दिल्ली के बीच फ्लाइट चलाने का फैसला किया है।

एयर इंडिया ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। इसमें बताया गया है कि 22, 24 और 26 फरवरी को कीव के बोरिस्पोल इंटरनेशल एयरपोर्ट से दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशल एयरपोर्ट के बीच उड़ानें भरी जाएंगी। फ्लाइट्स के लिए बुकिंग एयर इंडिया कार्यालयों, वेबसाइट, कॉल सेंटर और ट्रैवल एजेंट के जरिए की जा सकती है।

रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे विवाद की वजह से भारत के लिए उड़ानें महंगी हो गई हैं और 20 फरवरी के बाद ही उपलब्ध हैं। एक टिकट की कीमत एक लाख रुपए तक पहुंच गई है। एयर इंडिया की फ्लाइट शुरू होने से टिकट के दाम कुछ कम हो सकते हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन में पढ़ाई कर रहे करीब 18,000 भारतीय छात्र फंसे हैं।

उड़ानों से प्रतिबंध हटाया :
भारत के सिविल एविएशन मंत्रालय ने हाल ही में एयर बबल समझौते के तहत दोनों देशों के बीच आने-जाने वाली उड़ानों की संख्या पर बैन हटाया है। अब एयरलाइंस कंपनियां कितनी भी फ्लाइट्स संचालित कर सकती हैं।

यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों ने कहा- शुक्रिया
यूक्रेन में फंसे भारतीयों ने केंद्र सरकार के इस कदम की सराहना की है और धन्यवाद कहा है। इससे पहले यूक्रेन में भारतीय दूतावास ने कहा था उनके पास कई सारे लोगों के फोन आ रहे हैं। यह सभी नागरीक यूक्रेन से भारत के लिए उड़ानें उपलब्ध नहीं होने को लेकर शिकायतें कर रहे हैं।

बाइडेन बोले- कभी भी हो सकता है कीव पर हमला
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शुक्रवार रात को टेलीविजन संबोंधन में दावा किया कि यूक्रेन पर हमला करने की रूस पूरी तैयारी कर चुका है। हमारे पास खुफिया रिपोर्ट है कि रूस की सेना ने सबसे पहले यूक्रेन की राजधानी कीव को निशाना बनाने की योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि कीव में 28 लाख लोग रहते हैं और रूस के हमले की स्थिति में उन सबकी जिंदगी खतरे में आ जाएगी।

%d bloggers like this: