त्रिपुरा के स्कूलों में राजनीतिक रैलियों और कार्यक्रमों पर रोक, छुट्टियों में NOC लेकर होंगे अन्य कार्यक्रम

थर्ड आई न्यूज

अगरतला I त्रिपुरा सरकार ने राजनीतिक कार्यक्रमों के लिए स्कूल के संसाधनों के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। शनिवार को जारी नोटिफिकेशन में कहा गया कि किसी भी राजनीतिक दल की ओर से राजनीतिक कार्यक्रमों के आयोजन के लिए खेल के मैदान सहित स्कूल के किसी भी संसाधन का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। शिक्षा विभाग की निदेशक चांदनी चंद्रन ने इस नोटिफिकेशन पर साइन किया है।

इसके अनुसार, किसी भी अन्य कार्यक्रम के संचालन के लिए माध्यमिक या प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय के निदेशक या संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी से NOC लेना होगा, वह भी केवल स्कूल के घंटों के बाद या छुट्टियों के समय का होगा। अधिकारी ने कहा कि कुछ प्रिंसिपल्स ने स्कूल के दौरान और बिना एनओसी प्राप्त किए राजनीतिक कार्यक्रमों के आयोजन के लिए स्कूल के खेल के मैदान का उपयोग करने की सहमति देकर नियमों का उल्लंघन किया है। यह कार्रवाई स्वीकार नहीं की जा सकती है, क्योंकि कोरोना के चलते स्कूल लंबे समय के अंतराल के बाद खुले हैं।

उल्लंघन को लेकर होगी सख्त कार्रवाई :
नोटिफिकेशन में कहा गया है कि प्रिंसिपल्स या टीचर्स के खिलाफ पहले से किए गए उल्लंघनों के लिए सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही भविष्य में इस तरह के किसी भी उल्लंघन के खिलाफ दूसरों को चेतावनी दी जा रहा है। अगर कोई संगठन विद्यालयों में अनापत्ति प्रमाण-पत्र (NOC) के बिना ऐसी गतिविधियों को आयोजित करने की योजना बना रहा है, तो संबंधित प्रिंसिपल या प्रभारी शिक्षकों को जिला शिक्षा अधिकारियों या स्कूलों के निरीक्षक को सूचित करने के लिए जिम्मेदार ठहराया जाएगा।

इसे संबंधित आयोजनों को रद्द करने के लिए स्थानीय प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को भेजा जाएगा। इसके अलावा, इन मुद्दों को संबंधित जिलाधिकारियों और प्रारंभिक शिक्षा निदेशक की ओर से आगे की कार्रवाई की जाएगी I

%d bloggers like this: