बांग्लादेश के सांसद फजल हुसैन बादशा बोले- भारत के समर्थन के बिना सफल नहीं हो सकता था बांग्‍लादेश का मुक्‍त‍ि संग्राम

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्‍ली । बांग्लादेश के सांसद फजल हुसैन बादशा ने भारत-बांग्‍लादेश के संबंधों की अहमियत को रेखांकित करते हुए कहा है कि भारत हमारे देश का सबसे बड़ा पड़ोसी मुल्‍क है। भारत ने हमारे मुक्ति संग्राम में सबसे बड़ा योगदान दिया था। भारत के समर्थन के बिना बांग्‍लादेश का मुक्‍त‍ि संग्राम सफल नहीं हो सकता था। पाकिस्‍तानी सेना से संघर्ष के दौरान एक करोड़ लोगों ने सीमा पार की थी। इस मुक्‍त‍ि संग्राम में भारत सरकार ने हमारे सभी लोगों को भोजन और आश्रय प्रदान किया था।

सांसद फजल हुसैन बादशा ने कहा कि हम हमेशा भारत और बंग्‍लादेश के बीच एक अति पड़ोसी संबंधों की अपेक्षा करते हैं। हम आर्थिक, सांस्कृतिक समेत हर नजरिए से भारत के साथ घनिष्ठ संबंध चाहते हैं। राष्ट्रीय स्तर पर हमें भारत के साथ अच्छे संबंध रखने चाहिए।

गौरतलब है कि बांग्लादेश के सांसद फजल हुसैन बादशा का यह बयान ऐसे वक्‍त में सामने आया है जब भारत-बांग्लादेश के बीच मजबूत हो रहे संबंधों के बीच दोनों देशों में लंबे समय से लटके फेनी नदी से पानी लेने के मुद्दे पर सहमति बन गई है। शनिवार को स्थलीय निरीक्षण के बाद भारत-बांग्लादेश की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बहने वाली इस नदी के पानी को लेकर मामला हल हो गया। इस दौरान दोनों देशों के उच्च अधिकारियों ने नदी के स्वास्थ्य और नौगम्यता को बनाए रखने के लिए नदी के किनारे के कुछ हिस्सों में कटाव को रोकने का संकल्प लिया।

दक्षिण त्रिपुरा के जिला मजिस्ट्रेट साजू वहीद ने शनिवार को कहा कि संयुक्त निरीक्षण हर तरह से सफल रहा। अगले दो से तीन सप्ताह के भीतर काम शुरू होने की उम्मीद है। यह एक बड़ी सफलता है। दोनों देशों द्वारा जल समझौतों को बहुत पहले मंजूरी दिए जाने के बाद पिछले 12 वर्षों से इन परियोजनाओं में कोई प्रगति नहीं हुई थी। लेकिन अब उम्मीद बंधी है कि अगले दो से तीन हफ्ते के भीतर चयनित स्थानों पर काम शुरू हो जाएगा। वहीद, बांग्लादेश के प्रतिनिधियों की अगवानी करने वाले भारतीय प्रतिनिधिमंडल के सदस्य थे। उन्होंने बाद में नदी तट पर स्वीकृत परियोजनाओं का निरीक्षण भी किया।

%d bloggers like this: