हिंदी के वैश्विक प्रचार में रामकथा की भूमिका पर संगोष्ठी आयोजित

थर्ड आई न्यूज

गुवाहाटी I मॉरीशस के महात्मा गांधी संस्थान, हिंदी प्रचारिणी सभा, विश्व हिंदी सचिवालय, मॉरीशस तथा मुंबई साहित्यिक सांस्कृतिक शोध संस्थान के तत्वाधान में 8 मई से 14 मई तक के बीच हिंदी के वैश्विक प्रसार में रामकथा की भूमिका पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस संगोष्ठी में मार्घेरीटा महाविद्यालय की प्राध्यापिका डॉ पुष्पा सिंह को विषय विशेषज्ञ के रूप में आमंत्रित किया गया। उन्होंने मॉरीशस सहित विश्व के अनेक देशों में प्रचलित रामकथा को समेटते हुए भारत एवं असम में प्रचलित राम कथा एवं राम के विभिन्न रूपों पर प्रकाश डाला। उन्होंने अपने वक्तव्य में कहा कि हमें राम के आदर्शों का पालन करते हुए अपने भीतर एवं बाहर के ‘लंका कांड’ का संहार करना होगा ताकि हम रामराज्य (उत्तरकांड) की परिकल्पना को पूर्ण कर सके। इस अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी में रामलीला की प्रस्तुति भी की गई, जिसमें डॉ पुष्पा सिंह ने लक्ष्मण की भूमिका का निर्वाहन किया।

%d bloggers like this: