Amit Shah in Arunachal Pradesh: गृहमंत्री अमित शाह ने 1000 करोड़ की विभिन्न विकास परियोजनाओं का दिया तोहफा, राहुल गांधी पर कसा तंज

थर्ड आई न्यूज

इटानगर | केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह इस समय अरुणाचल प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर हैं। अपने दौरे के दूसरे दिन रविवार को वे नामसाई जिला पहुंचे। यहां उन्होंने 1000 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। शाह ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार अरुणाचल के साथ हमेशा खड़ी रहेगी।

‘इतावली चश्मा उतारें राहुल बाबा’ :
इस दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस के नेता पूछते हैं कि 8 साल में क्या हुआ? ये लोग आंखें बंद करके जाग रहे हैं। राहुल बाबा को अपना इतालवी चश्मा निकालना चाहिए और पीएम मोदी और सीएम पेमा खांडू द्वारा किए गए विकास कार्यों को देखना चाहिए।

‘सरकार का प्रयास पूरे पूर्वोत्तर को उग्रवाद मुक्त बनाना है’ :
अरुणाचल प्रदेश के दो दिन के दौरे पर पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह शनिवार को तिराप जिले में नरोत्तम नगर स्थित रामकृष्ण मिशन स्कूल के स्वर्ण जयंती समारोह में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि अरुणाचल प्रदेश और असम के बीच अंतरराज्यीय सीमा विवाद इस साल सुलझ जाने की संभावना है। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार का प्रयास पूरे पूर्वोत्तर को उग्रवाद मुक्त बनाना है। केंद्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनने के बाद से आठ साल में पूर्वोत्तर में नौ हजार उग्रवादियों ने सरेंडर किया है। केंद्रीय गृह मंत्री के साथ कानून मंत्री किरण रिजिजू भी मौजूद थे।

‘असम-मेघालय के बीच सुलझा सीमा विवाद’ :
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘असम और मेघालय के बीच लगभग 60 प्रतिशत अंतरराज्यीय सीमा विवाद सौहार्दपूर्ण तरीके से सुलझ गया है। मुझे यकीन है कि अरुणाचल प्रदेश और असम के बीच विवाद भी 2023 से पहले सुलझ जाएगा। दोनों सरकार इस दिशा में काम कर रही हैं।’

‘पूर्वोत्तर में शांति और विकास को लेकर प्रतिबद्ध है सरकार’ :
अमित शाह ने कहा कि केंद्र पूर्वोत्तर में शांति और विकास को लेकर प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा, ‘पूर्वोत्तर के युवा अब बंदूक और पेट्रोल बम लेकर नहीं चलते। उनके पास अब लैपटाप होता है और वे स्टार्टअप शुरू कर रहे हैं। यह विकास का मार्ग है, जिसकी परिकल्पना केंद्र ने क्षेत्र के लिए की है।’

%d bloggers like this: