बटद्रवा थाने पर हमले को लेकर एसआईटी का गठन, इस्लामिक जिहादी और टेररिस्ट संगठनों के एंगल से भी होगी मामले की जांच

थर्ड आई न्यूज

नगांव I नगांव जिले के बटद्रवा में कल थाने में हुई आगजनी को लेकर एसआईटी गठन करने का फैसला लिया गया है I पुलिस इस सारे मामले की ड्रग्स और इस्लामिक जिहाद के एंगल से भी जांच कर रही है I पुलिस यह भी जांच कर रही है कि कहीं साक्ष्यों को मिटाने के उद्देश्य से तो थाने में आग नहीं लगाई गई हैI इस घटना के बाद आज असम पुलिस के स्पेशल डीजी जीपी सिंह और डीआईजी सेंट्रल रेंज सत्यजीत हजारिका ने घटनास्थल का दौरा किया I इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए स्पेशल डीजी ने कहा की कल के घटनाक्रम को पुलिस ने बहुत गंभीरता से लिया है I उन्होंने बताया कि जिस सफीकुल इस्लाम नामक व्यक्ति की कथित रूप से हिरासत में मौत होने की बात कही जा रही है, उसकी बॉडी का पोस्टमार्टम किया गया है I पोस्टमार्टम की रिपोर्ट की विशेषज्ञों के द्वारा पड़ताल के बाद ही उसकी मौत के कारणों का पता चल सकेगा I पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस मामले की स्वतंत्र जांच का आदेश सेंट्रल रेंज के डीआईजी को दे दिया गया है Iजीपी सिंह ने कहा कि कल की घटना की जांच स्पेशल इन्वेस्टिगेटिंग टीम (एसआईटी) करेगी I उन्होंने कहा कि घटना के कई एंगल सामने आ रहे हैं I उन सब की पड़ताल के बाद प्रस्तावित एसआईटी अपनी रिपोर्ट दायर करेगी Iउन्होंने कहा इस मामले में कई गिरफ्तारियां हुई हैं तथा आज पुलिस ने इलाके में एक अतिक्रमण हटाओ अभियान भी चलाया था I

दूसरी ओर पत्रकारों को संबोधित करते हुए डीआईजी सेंट्रल रेंज सत्यजीत हजारिका ने बताया कि इस घटना से कुछ महिलाएं भी जुड़ी हैं I उन्होंने कहा कि जिन चार महिलाओं का नाम है, हमने उनको हिरासत में लिया है I
पुलिस अधिकारी ने कहा कि वे सारे मामले की ड्रग्स कारोबार के एंगल से भी छानबीन कर रहे हैं I उन्होंने कहा कि इस इलाके में ड्रग्स कारोबारियों का जाल बिछा हुआ है I ऐसे में थाने में आग लगाने के पीछे जरूरी दस्तावेजों और अन्य सबूतों को जलाना तो कहीं उद्देश्य नहीं था, इसकी भी जांच की जाएगी I उन्होंने बताया कि ड्यूटी में कोताही बरतने के आरोप में थाने के इंचार्ज को पहले ही सस्पेंड कर दिया गया है I इसके अलावा अन्य कई लोगों को लाइन हाजिर होने का भी निर्देश जारी किया गया है I

%d bloggers like this: