सत्ता के लिए कभी धोखा नहीं देंगे’, बगावत के बाद एकनाथ शिंदे का पहला बयान

थर्ड आई न्यूज

मुंबई I महाराष्ट्र में उद्धव सरकार पर खतरा मंडरा रहा है. MLC चुनाव में क्रॉस वोटिंग के बाद मंत्री और शिवसेना के सीनियर नेता एकनाथ शिंदे गुजरात के सूरत में हैं. इधर महाराष्ट्र से दिल्ली तक सियासी हलचल तेज हो गई है. माना जा रहा है कि शिंदे NCP संग शिवसेना के गठबंधन से नाराज हैं. फिलहाल शिवसेना ने शिंदे पर एक्शन लेना शुरू कर दिया है. उनको विधायक दल के नेता के पद से हटा दिया गया है.

शिंदे पर एक्शन शुरू :
शिंदे पर एक्शन शुरू हो गया है. शिवसेना ने शिंदे को विधायक दल के नेता के पद से हटा दिया है. यह जिम्मेदारी अब अजय चौधरी को सौंपी गई है. दूसरी तरफ कांग्रेस भी एक्शन मोड में है. उन्होंने कमलनाथ को महाराष्ट्र में अपना प्रेक्षक बनाया है.

एकनाथ शिंदे का पहला बयान आया :
बगावत के बाद एकनाथ शिंदे का पहला बयान आया है. उन्होंने ट्वीट किया है कि हम बालासाहेब के सच्चे शिवसैनिक हैं. बालेसाहेब के हमें हिंदुत्व सिखाया है. हम सत्ता के लिए कभी भी धोखा नहीं देंगे. बालासाहेब के विचारों और धर्मवीर आनंद साहेब ने हमें धोखा देना नही सिखाया है.

%d bloggers like this: