नगांव:केंद्रीय मंत्री सर्वानंद सोनोवाल और मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया दौरा, मुख्यमंत्री ट्रेन से और सोनोवाल रोड़ से पहुंचे राहत शिविरों में

नगांव से डिंपल शर्मा

केंद्रीय मंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने आज जिले के फूलोगिड़ी माध्यमिक विद्यालय राहत शिविर का दौरा किया और बाढ़ पीड़ितों को मिल रही राहत सामग्री की समीक्षा की। सोनेवाल ने करीब 1 घंटे का समय बाढ़ पीड़ित लोगों के साथ बिताया और उनका हालचाल जाना। जिला प्रशासन के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ भी मंत्री ने बातचीत की I पत्रकारों को संबोधित करते हुए सर्वानंद सोनोवाल ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार बाढ़ पीड़ितों के लिए मिलकर काम कर रही हैं I नगांव जिले में आई बाढ़ से बहुत नुकसान हुआ है Iउन्होंने कहा कि जल्द ही केंद्र की एक टीम असम आकर बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करेगी। सोनोवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वयं असम की बाढ़ की स्थिति पर नजर रखे हुए हैं और उन्होंने राज्य सरकार को हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया है।

दुसरी ओर आज असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा बाढ़ की स्थिति का आकलन करने ट्रेन के जरिए पहुंचे। शर्मा ने कामपुर आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय, कामपुर उच्च माध्यमिक विद्यालय, कामपुर महाविद्यालय, कामपुर उच्चतर माध्यमिक और बहुमुखी विद्यालय स्थित राहत शिविरों का दौरा किया। शर्मा के साथ इस दौरान बरहमपुर के विधायक जीतू गोस्वामी के साथ नगांव जिला प्रशासन के उच्च अधिकारियों का दल भी मौजूद था। पत्रकारों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने कहा कि वे बाढ़ पीड़ित जनता के साथ खड़े हैं और उन्हें हर संभव मदद देने के लिए वचनबद्ध है I उन्होंने कहा कि जहां राहत सामग्री नहीं पहुंच पाई है, वहां जल्द पहुंच जाएगी I

मुख्यमंत्री शर्मा ने बाढ़ पीड़ित लोगों के साथ बातचीत की और सरकार द्वारा मिल रही राहत रूपी सुविधा पर बातचीत की। उल्लेखनीय है कि पिछले 1 महीने के दौरान इस इलाके में यह दूसरी भीषण बाढ़ आई है जिसमें सैकड़ों गांवों के साथ लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। यह एक ऐसा इलाका है जो कि सड़क मार्ग से पूरी तरह से टूटा हुआ है और इस इलाके में सिर्फ रेल मार्ग से ही पहुंचा जा सकता है जिसके चलते आज मुख्यमंत्री ने रेल मार्ग से बाढ़ प्रभावित लोगों तक पहुंचने का मार्ग तय किया। रेल लाइन के किनारे लोगों का हुजूम मुख्यमंत्री को देखने के लिए उमड़ रहा था। ट्रेन की यात्रा करने के बाद मुख्यमंत्री लाइफ जैकेट पहनकर एनडीआरएफ की नाव में लोगों के बीच पहुंचे और बाढ़ पीड़ितों की हिम्मत बढ़ाई।

%d bloggers like this: