इंग्लैंड के खिलाफ भारत की शर्मनाक हार:पांचवें टेस्ट में 7 विकेट से अंग्रेजों ने दी मात, 350+ का टारगेट देकर पहली बार हारी टीम इंडिया

थर्ड आई न्यूज

बर्मिंघम I भारत का इंग्लैंड में 15 साल बाद टेस्ट सीरीज जीतने का सपना चकनाचूर हो गया। इंग्लैंड ने बर्मिंघम टेस्ट में टीम इंडिया को 7 विकेट से हरा दिया। बेहतरीन फॉर्म में चल रहे जो रूट (142) और जॉनी बेयरस्टो (114) के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 269 रनों की पार्टनरशिप की बदौलत इंग्लैंड ने 378 रन के टारगेट को तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। इसके साथ ही पांच टेस्ट मैचों की सीरीज 2-2 से बराबर हो गई है। ये पहली बार है जब भारत ने विरोधी टीम को 350 रन से अधिक का टारगेट दिया हो और उसके बाद भी मैच गंवा दिया।

रूट के बल्ले ने मचाया धमाल :
जो रूट ने पांचवें दिन अपने टेस्ट करियर का 28वां शतक जड़ा। 2021 के बाद इंग्लैंड के इस बल्लेबाज के बल्ले से 47 पारियों में 11 शतक निकल चुके हैं। भारत के खिलाफ रूट की 9वीं सेंचुरी रही।भारतीय टीम दूसरी पारी में 245 रन पर ऑल-आउट हो गई और इंग्लैंड को 378 रन का लक्ष्य मिला।

ऐसा लगा ये लक्ष्य बड़ा है, लेकिन भारतीय गेंदबाजों को पहले इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाजों ने धोया। एलेक्स लीस और जैक क्रॉली ने पहले विकेट के लिए 107 रन जोड़े। हालांकि इसके बाद 2 रन के अंदर 3 बल्लेबाज पवेलियन लौटे और ऐसा लगा भारत ने मैच में वापसी कर ली है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। जॉनी बेयरस्टो और जो रूट ने तो पूरा मैच ही पलट दिया।

बुमराह ने दो विकेट लिए, फिर भारत ने दो रिव्यू गंवा दिए :
टीम इंडिया के कप्तान जसप्रीत बुमराह ने मैच के चौथे दिन इंग्लैंड के शुरुआती दोनों विकेट झटके। टी से पहले उन्होंने जैक क्रॉली को 46 रन के निजी स्कोर पर बोल्ड किया। वहीं, टी के बाद पहली ही गेंद पर ओली पोप को विकेट के पीछे कैच आउट कराया। इंग्लैंड दोनों झटकों से अभी संभल भी नहीं पाया था, तभी मोहम्मद शमी के एक शानदार थ्रो ने एलेक्स लीस को रन आउट कर पवेलियन भेज दिया।

इसके बाद भारत ने दो ओवर में 2 रिव्यू गंवा दिए। पहले रवींद्र जडेजा की गेंद पर जो रूट के लिए LBW की अपील हुई, लेकिन अंपायर ने नॉट-आउट दे दिया। भारतीय खिलाड़ियों को लगा रूट आउट हैं और रिव्यू ले लिया। रिप्ले में साफ नजर आया कि बॉल लेग स्टंप से बाहर जा रही है।

इसके अगले ओवर में शमी की गेंद पर एक बार फिर भारतीय खिलाड़ियों ने LBW के लिए जोरदार अपील की। इस बार भी बल्लेबाज रूट ही थे। रिप्ले में साफ नजर आया कि गेंद स्टंप से ऊपर जा रही है और एक बार फिर रूट बच गए। इस तरह टीम इंडिया ने अपने दो रिव्यू गंवा दिए।

पंत-पुजारा ने बनाए सबसे ज्यादा रन :
भारत के लिए दूसरी पारी में सबसे ज्यादा रन चेतेश्वर पुजारा ने बनाए। उन्होंने 66 रनों की पारी खेली। इस दौरान उनके बल्ले से 8 चौके निकले। पुजारा को स्टुअर्ट ब्रॉड ने पवेलियन भेजा। ब्रॉड की पटकी हुई गेंद को चेतेश्वर पॉइंट की दिशा में खेलना चाहते थे, लेकिन वहां खड़े एलेक्स लीस ने आसान सा कैच लपक लिया।

वहीं, पहली पारी में शानदार 146 रन बनाने वाले ऋषभ ने दूसरी पारी में भी अर्धशतक जड़ा। वह 86 गेंद में 57 रन बनाकर आउट हुए। ये उनके टेस्ट करियर की 10वीं फिफ्टी रही। उन्हें जैक लीच ने अपना शिकार बनाया।

श्रेयस अय्यर एक बार फिर बड़ी पारी नहीं खेल पाए। मैथ्यू पॉट्स की शॉर्ट गेंद को वो पुल करना चाहते थे, लेकिन जेम्स एंडरसन को एक आसान कैच दे बैठे। अय्यर के बल्ले से 19 रन निकले। इंग्लैंड की ओर से सबसे ज्यादा 4 विकेट बेन स्टोक्स ने लिए।

%d bloggers like this: