जसप्रीत बुमराह के बाद रोहित शर्मा ने इंग्लैंड पर बरपाया कहर, भारत ने मेजबानों को 10 विकेट से रौंदा

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली l भारत ने इंग्लैंड को द ओवल में खेले गए पहले वनडे मुकाबले में 10 विकेट से रौंदकर तीन मैच की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। टीम इंडिया की इस जीत के हीरो जसप्रीत बुमराह रहे जिन्होंने करियर बेस्ट परफॉर्मेंस देते हुए 7.2 ओवर में 19 रन खर्च कर 6 विकेट चटकाए। बुमराह के इस लाजवाब प्रदर्शन के दम पर टीम इंडिया मेजबानों को 110 रनों पर समेटने में कामयाब रही। यह इंग्लैंड का भारत के खिलाफ वनडे क्रिकेट में सबसे न्यूनतम स्कोर है। 111 रनों के लक्ष्य को रोहित शर्मा और शिखर धवन को जोड़ी ने बिना विकेट गिरे 18.4 ओवर में हासिल कर लिया। रोहित ने इस दौरान 58 गेंदों पर 76 रनों की पारी खेली, वहीं धवन ने 31 रन बनाए। जसप्रीत बुमराह को उनके लाजवाब प्रदर्शन की वजह से मैन ऑफ द मैच के अवॉर्ड से नवाजा गया। सीरीज का दूसरा मुकाबला 14 जुलाई को क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स के मैदान पर खेला जाना है।

पिच पर घास को देखते हुए भारत ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला लिया और बुमराह की अगुवाई में भारतीय तेज गेंदबाजों ने इसे सही साबित कर दिखाया। इस दौरान बुमराह इंग्लैंड में किसी वनडे मैच में पांच या अधिक विकेट लेने वाले भारत के पहले तेज गेंदबाज बन गए। भारत के खिलाफ इंग्लैंड का यह न्यूनतम स्कोर भी है। गेंद बढिया स्विंग और सीम ले रही थी जिससे बुमराह और मोहम्मद शमी और खतरनाक नजर आये। शमी ने सात ओवर में 31 रन देकर तीन विकेट लिये।

जैसन रॉय (0) ने बुमराह की बाहर जाती गेंद से छेड़खानी के प्रयास में अपना विकेट गंवाया। दो गेंद बाद फॉर्म में चल रहे जो रूट (0) एक और इनस्विंगर गेंद का इंतजार कर रहे थे लेकिन बुमराह की गेंद आफ स्टम्प के बाहर से उछलती हुई आई और विकेटकीपर ऋषभ पंत ने आसान कैच लपका। दूसरे छोर से शमी ने बेन स्टोक्स को खाता भी नहीं खोलने दिया। पंत ने एक हाथ से उनका दर्शनीय कैच लपका। पंत ने जॉनी बेयरस्टॉ का भी कैच इसी अंदाज में लपका जो सात रन बनाकर बुमराह का तीसरा शिकार हुए।

बुमराह ने जल्दी ही इंग्लैंड का स्कोर पांच विकेट पर 26 रन कर दिया जब लियाम लिविंगस्टान (0) पवेलियन लौटे। इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर ने 32 गेंद में सर्वाधिक 30 रन बनाये लेकिन दूसरे छोर से विकेट गिरते रहे। शमी ने शॉर्ट गेंद डालकर बटलर को खराब शॉट खेलने पर मजबूर किया जो डीप स्क्वेयर लेग में कैच देकर लौटे।इस समय इंग्लैंड का स्कोर सात विकेट पर 59 रन था।

डेविड विली (26 गेंद में 21 रन) और ब्राइसन कार्स (26 गेंद में 15 रन) ने नौवे विकेट के लिये 35 रन जोड़कर इंग्लैंड को सौ रन के भीतर सिमटने से बचाया। इंग्लैंड का न्यूनतम स्कोर 86 रन है जो 2001 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था। बुमराह ने कार्स को आउट करके अपने वनडे कैरियर में दूसरी बार पारी के पांच विकेट पूरे किये।

%d bloggers like this: