शोपियां में कश्मीरी पंडित भाइयों पर आतंकियों ने बरसाईं गोलियां, एक की मौत दूसरा जख्मी

थर्ड आई न्यूज

जम्मू I शोपियां में एक सेब के बाग में मंगलवार को नागरिकों पर आतंकवादियों की गोलीबारी की है। इस हमले में एक कश्मीरी पंडित की मौत हो गई है, वहीं एक अन्य व्यक्ति घायल हो गया है। मृतक और घायल दोनों ही अल्पसंख्यक समुदाय से संबंधित हैं। घायल व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इलाके की घेराबंदी कर ली गई है। कश्मीर जोन पुलिस ने इस घटना की जानकारी दी है।

मृतक की पहचान सुनील कुमार के रूप में हुई :
एक पुलिस अधिकारी के अनुसार, मृतक की पहचान सुनील कुमार भट्ट के रूप में हुई है जबकि घायल व्यक्ति का नाम पिंटू कुमार बताया जा है। दोनों भाई हैं और सेब के बाग में एक साथ काम करते थे। इसके साथ ही इलाके को घेरकर हमलावरों की तलाश शुरू कर दी गई है। सुनील कुमार भट्ट का शव शोपियां स्थित उसके आवास पर पहुंच गया है।

भाजपा अध्यक्ष रविंदर रैना ने की घटना की निंदा :
जम्मू-कश्मीर भाजपा अध्यक्ष रविंदर रैना ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर को कब्रिस्तान बनाना चाहता है लेकिन हम उसके नापाक मंसूबों को पूरा नहीं होने देंगे। शोपियां क्षेत्र में कश्मीरी पंडितों को निशाना बनाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी, उन्हें निश्चित रूप से दंडित किया जाएगा।

ओवैसी ने सरकार पर साधा निशाना :
एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में एलजी को बीजेपी ने नियुक्त किया है। इन घटनाओं से साफ है कि केंद्र द्वारा संचालित सरकार वहां असफल साबित हुई है। धारा 370 को हटाने से कोई मदद नहीं मिली है। जम्मू-कश्मीर में कश्मीरी पंडित पर पहला हमला नहीं, केंद्र सरकार सुरक्षा प्रदान करने में विफल रही है। कश्मीरी पंडित अब कश्मीर छोड़ना चाहते हैं।

अनुपम खेर ने की हमले की निंदा :
शोपियां में आतंकी हमले पर अभिनेता अनुपम खेर की प्रतिक्रिया सामने आई है। उन्होंने कहा, शर्मनाक बात है कि अभी भी वहां कश्मीरी पंडितों के साथ वही अत्याचार हो रहा है। वहां तो अपने ही लोगों को मार रहे हैं। वहां पिछले 30 साल से ऐसा हो रहा है, इसकी जितनी भी निंदा की जाए वो कम है।

शुक्रवार को भी आतंकियों ने टारगेट किलिंग को अंजाम दिया था :
इससे पहले 12 अगस्त शुक्रवार को भी आतंकियों ने टारगेट किलिंग को अंजाम दिया था। दहशतगर्दों ने बांदीपोरा के सोदनारा सुंबल में गैर-कश्मीरी मजदूर पर फायरिंग की थी। गोली लगने से घायल मजदूर ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। घाटी में पिछले चार महीनों में लक्षित कर कई लोगों को निशाना बनाया है।

%d bloggers like this: