सलमान रुश्दी के जिंदा बचने पर हैरान है आरोपी हादी मतर, बताई हमले की वजह

थर्ड आई न्यूज

न्यूयार्क । मशहूर लेखक सलमान रुश्दी पर हमला करने वाले शख्स ने बड़ा खुलासा किया है। न्यूयार्क में एक लेक्चर के दौरान सलमान रुश्दी पर चाकू से हमला करने वाले हादी मतर ने इंटरव्यू दिया है। इस इंटरव्यू में उसने कहा कि वो ये जानकर हैरान है कि रुश्दी हमले में बच गए।

जेल में न्यूयार्क पोस्ट को दिए इंटरव्यू में उसने कहा, ‘बीती सर्दियों में रुश्दी का ट्वीट देखने के बाद उसने लेखक को चौटाउक्वा संस्थान में देखने का फैसला किया था।’ उसने आगे बताया, ‘मुझे वह व्यक्ति पसंद नहीं है। मुझे नहीं लगता कि वह बहुत अच्छे इंसान हैं। वह वो इंसान है जिसने इस्लाम पर हमला किया है। लेखक ने उसके विश्वास पर हमला किया है।’

24 वर्षीय मतर ने कहा कि वह दिवंगत ईरानी नेता अयातुल्ला रूहोल्लाह खुमैनी को एक महान व्यक्ति मानते हैं, लेकिन मैं ये नहीं कहता हूं कि खुमैनी द्वारा जारी फतवे का पालन कर रहा था। बता दें कि रुश्दी की बुक ‘द सैटेनिक वर्सेज’ के प्रकाशित होने के बाद खुमैनी ने रुश्दी को मारने का फतवा जारी किया था। मतर ने इस किताब के कुछ पन्ने पड़े थे।

रुश्दी पर चाकू से हुआ था हमला :
गौरतलब है कि हाल ही में पश्चिमी न्यूयार्क में ‘निर्वासन में लेखकों और अन्य कलाकारों की शरण स्थली के रूप में संयुक्त राज्य अमेरिका’ विषय पर रुश्दी चर्चा के लिए आए थे। वह स्टेज पर लोगों से मुलाकात कर रहे थे, तभी मतर ने रुश्दी पर चाकू से कई वार किए। हमले में रुश्दी बुरी तरह घायल हो गए।

ईरान की सफाई :
ईरान पर रुश्दी पर हमले का आरोप लगा है। इसको लेकर ईरान के विदेश मंत्रालय की तरफ से बयान जारी किया गया था। विदेश मंत्रालय ने कहा कि किसी को भी तेहरान के खिलाफ सलमान रुश्दी पर हुए हमले पर आरोप लगाने का अधिकार नहीं है। मंत्रालय ने कहा कि केवल रुश्दी और उनके समर्थक दुनिया के मुसलमानों को बदनाम करने के लिए फटकार और निंदा के योग्य थे। उन्हीं के कारण यह घटना घटी है।

%d bloggers like this: