CBI जांच के बीच सिसोदिया का दावा:संदेश आया कि भाजपा में आ जाओ, केस बंद करा देंगे; AAP ने सिसोदिया को बताया महाराणा प्रताप का वंशज

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली I दिल्ली की नई शराब नीति में भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद CBI जांच के दायरे में आए उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भाजपा पर बड़ा आरोप लगाया है। सिसोदिया ने कहा कि भाजपा ने उन्हें ‘आप’ तोड़कर भाजपा में शामिल होने का ऑफर दिया है।

सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि मेरे पास भाजपा का संदेश आया है कि आप तोड़कर भाजपा में आ जाओ, सारे CBI ED के केस बंद करवा देंगे। मेरा भाजपा को जवाब है मैं महाराणा प्रताप का वंशज हूं, राजपूत हूं। सर कटा लूंगा लेकिन भ्रष्टाचारियो-षड्यंत्रकारियों के सामने झुकूंगा नहीं।

आप ने सिसोदिया को बताया महाराणा प्रताप का वंशज :
इससे पहले सिसोदिया की CBI जांच को लेकर आम आदमी पार्टी ने जाति कार्ड खेला। पार्टी ने सिसोदिया को महाराणा प्रताप का वंशज बताया। इस मामले में रविवार को सबसे पहले आप के राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव और गुजरात के नेता इसुदान गढ़वी ने सोशल मीडिया पर टिप्पणी की। उन्होंने लिखा कि महाराणा प्रताप के वंशज मनीष सिसोदिया को भाजपा झूठे आरोप में परेशान कर रही है। इसके चलते गुजरात के राजपूत युवाओं में रोष है।

कुछ दिनों में 5000 से अधिक राजपूत युवा पार्टी में शामिल होंगे। इस बात को अरविंद केजरीवाल ने भी आगे बढ़ाया। इससे पहले शनिवार को पार्टी प्रवक्ता संजय सिंह ने भी सिसोदिया को महाराणा प्रताप का वंशज बताकर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर पर पलटवार किया था।

बताया जा रहा है कि इसी साल गुजरात और हिमाचल प्रदेश में होने वाले चुनाव के चलते पार्टी सिसोदिया को ईमानदार और अच्छा शिक्षा मंत्री बताकर बचाव तो कर रही है, उनकी जाति के सहारे भी लाभ लेने की कोशिश कर रही है। पार्टी को उम्मीद है कि गुजरात में राजपूतों की सहानुभूति से उसे फायदा हो सकता है।

लो-फ्लोर बसों की खरीद के आरोप में एक और केस दर्ज :
CBI ने दिल्ली सरकार को एक और झटका दिया है। अब जांच एजेंसी ने 1000 लो-फ्लोर बसों की खरीद में कथित भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर प्रारंभिक जांच दर्ज की है। जांच केंद्रीय गृह मंत्रालय के संदर्भ पर दर्ज की गई है। दिल्ली सरकार ने बस खरीद में भ्रष्टाचार के ‘आरोपों’ का खंडन किया था और केंद्र सरकार पर सीबीआई का इस्तेमाल करके उसे ‘परेशान’ करने का आरोप लगाया है। जून में पूर्व उपराज्यपाल अनिल बैजल द्वारा गठित तीन सदस्यीय समिति ने बसों की खरीद के सालाना रखरखाव अनुबंध में प्रक्रियागत ‘खामियां’ पाई थी और इसे खत्म करने की सिफारिश की थी।

सिसोदिया बोले- मेरे खिलाफ लुकआउट सर्कुलर :
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा- CBI ने उनके खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी किया है। सारी छापेमारी असफल हो गई। कुछ नहीं मिला। अब आपने लुकआउट सर्कुलर जारी किया है। यह क्या नौटंकी है? मैं दिल्ली में घूम रहा हूं। बताइए कहां आना है? सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई ने इस मामले की FIR और दस्तावेज ED को सौंप दिए हैं।

8 लोगों को सर्कुलर भेजे, इनमें सिसोदिया नहीं :
CBI ने रविवार को बताया कि दस्तावेजों की छंटनी चल रही है। घोटाले की FIR में शामिल 8 लोगों के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी किए। हालांकि इनमें उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और आबकारी विभाग के तीन पूर्व अफसरों के नाम नहीं हैं। उनके खिलाफ कोई सर्कुलर जारी नहीं किया है।

बेरोजगारी और महंगाई से लड़े केंद्र सरकार: केजरीवाल
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हर सुबह केंद्र सरकार ‘CBI-ED’ का खेल शुरू कर देती है। उन्होंने कहा, ‘ऐसे समय जब आम आदमी महंगाई से जूझ रहा है, केंद्र को सभी राज्य सरकारों के साथ मिलकर बेरोजगारी और महंगाई से लड़ना चाहिए। उसकी बजाय ये पूरे देश से लड़ रहे हैं।’

%d bloggers like this: