नई ऊंचाई छुएंगे भारत-बांग्लादेश के रिश्ते, आतंकवाद के खिलाफ पीएम मोदी ने शेख हसीना से मांगा सहयोग

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली l बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना चार दिवसीय भारत यात्रा पर है। उन्होंने दिल्ली स्थित हैदराबाद हाउस में पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इस दौरान भारत ने शेख हसीना का जोरदार स्वागत किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत की “पड़ोसी पहले” नीति के तहत बांग्लादेश एक प्रमुख भागीदार रहा है। हम आपसी सहयोग से दोनों देशों के लोगों की आजीविका में निरंतर सुधार कर रहे हैं। हमने आईटी, अंतरिक्ष और न्यूक्लियर एनर्जी समेत तमाम सेक्टरों की तरफ कदम बढ़ाए हैं। अगले 25 वर्षों में भारत-बांग्लादेश संबंध नई ऊंचाइयों पर पहुंचेंगे। पीएम मोदी और शेख हसीना की आतंकवाद, कट्टरवाद और जलवायु परिवर्तन समेत समेत वैश्विक मुद्दों पर भी चर्चा हुई। पीएम ने कहा कि यह जरूरी है कि हम एक साथ उन ताकतों का सामना करें जो हमारे खिलाफ हैं।

इससे पहले सोमवार को दिल्ली पहुंचीं शेख हसीना का कपड़ा और रेल राज्य मंत्री दर्शन जरदोश ने स्वागत किया। उन्होंने द्विपक्षीय हित के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए विदेश मंत्री एस जयशंकर से भी मुलाकात की और दिल्ली में एक प्रमुख तीर्थस्थल पर्यटक आकर्षण निजामुद्दीन औलिया दरगाह का दौरा किया।

पीएम मोदी पिछले साल बांग्लादेश की आजादी के 50वें वर्ष के मौके पर बांग्लादेश पहुंचे थे। उसके बाद शेख हसीना की यह पहली भारत यात्रा है। पीएम मोदी ने कहा अगले 25 वर्षों में भारत-बांग्लादेश संबंध नई ऊंचाइयों पर पहुंचेंगे। इस दौरान शेख हसीना ने कहा, “अगले 25 वर्षों के लिए मैं अमृत काल की नई सुबह के लिए शुभकामनाएं देती हूं क्योंकि, आत्मनिर्भर भारत के साथ बांग्लादेश विभिन्न महत्वूपर्ण प्रस्तावों को प्राप्त कर आगे बढ़ रहा है।

कुशियारा नदी जल बंटवारे पर चर्चा :
पीएम नरेंद्र मोदी ने शेख हसीना के साथ एक संयुक्त बयान जारी किया। कहा, “54 नदियां भारत-बांग्लादेश सीमा से होकर बहती हैं जो दोनों देशों के लोगों की आजीविका से जुड़ी हैं। आज, हमने कुशियारा नदी के जल-बंटवारे के संबंध में एक महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।” बता दें कि कुशियारा नदी जल बंटवारे से दक्षिण असम और बांग्लादेश का सिलहट क्षेत्र लाभांवित होगा।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत की “पड़ोसी पहले” नीति के तहत बांग्लादेश एक प्रमुख भागीदार रहा है। भारत और बांग्लादेश ने भूमि और समुद्री सीमा सीमांकन, सुरक्षा, संपर्क, विकास सहयोग, सांस्कृतिक आदान-प्रदान, शक्ति और ऊर्जा, व्यापार और वाणिज्य, अर्थव्यवस्था और रक्षा सहित कई क्षेत्रों में ठोस परिणाम प्राप्त किए हैं।

आतंकवाद पर भी चर्चा :
शेख हसीना के बीच महत्वपूर्ण बैठक के दौरान पीएम मोदी ने आतंकवाद पर भी चर्चा की। पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद सिर्फ एक देश नहीं वैश्विक चिंता का विषय है। हमने आतंकवाद पर भी चर्चा की है। यह जरूरी है कि हम एक साथ उन ताकतों का सामना करें जो हमारे खिलाफ हैं।

%d bloggers like this: