नगांव : बाबा रामदेव का भव्य विशाल जागरण संपन्न

थर्ड आई न्यूज

नगांव से डिंपल शर्मा

बाबा रामदेव रुणिचावाले का विशाल जागरण उत्सव कल भादव दशमी के दिन शहर की धार्मिक संस्था श्री श्री बाबा रामदेव भक्त संगम के तत्वाधान में श्री जैन श्वेतांबर तेरापंथी भवन में संपन्न हुआ। संगम के अध्यक्ष अजीत महेश्वरी के मंच संचालन में इस एक दिवसीय आयोजन के दौरान कई कार्यक्रम किए गए। बाबा की दिव्य ज्योति का प्रज्वलन करने के साथ ही भव्य रुप से फूलों की पंखुड़ियों से सजे दरबार में पूजा सर्वप्रथम मुख्य यजमान अजीत- शर्मिला महेश्वरी द्वारा संपन्न करवाई गई I उसके बाद जगदीश- उषा धुत, विनोद-अंजू गुजरानी और नवरतन-ममता बोकड़िया ने सपत्नीक पूजा अर्चना में भाग लिया। इसके बाद मुख्य आकर्षण का केंद्र रहने वाले जम्मा जागरण का श्री गणेश
जाने-माने भजन गायक जरनैल सिंह द्वारा किया गया। सिंह ने इस दौरान एक से बढ़कर एक भजनों की प्रस्तुति देकर श्रोताओं का मन मोह लिया। इनके पश्चात भजनों की कमान विख्यात भजन गायक बद्री व्यास और पल्लवी दास ने संभाली, जिन की जोड़ी ने आयोजन की गरिमा में चार चांद लगाते हुए बाबा रामदेव के जीवन काल से जुड़े एक एक भजनों की शानदार प्रस्तुति देकर माहौल को रुणिचा धाम बना दिया। “खम्मा खम्मा ओ बाबा रुणिचे रा धनिया”के साथ “म्हारो हेलो सुणो जी रामापीर” के जयकारे से समूचा भवन गुंजायमान हो उठा और बाबा के श्रद्धालुओं ने नाचते गाते तालियां बजाते हुए भजनों का आनंद उठाते हुए माहौल को भक्तिमय बना दिया। भजनों के बीच भक्तों मैं रक्षा कवच के साथ प्रसाद का वितरण किया गया और लोगों ने अपनी-अपनी श्रद्धा की हाजिरी बाबा के दरबार में लगाई। कार्यक्रम के दौरान संगम के अध्यक्ष अजीत महेश्वरी, उपाध्यक्ष जगदीश धुत, सचिव विनोद गुजरानी और संगम के सदस्य अरुण नागरका,पवन झंवर के साथ संगम से जुड़े समाजसेवियों और भक्तों की उपस्थिति के बीच विख्यात भजन गायक बद्री व्यास का धार्मिक परंपरा के अनुसार उनको भाषा संस्कृति की सेवा के लिए मोमेंटो प्रदान करने के साथ असमिया संस्कृति के अनुरूप फूलाम गामोछा पहनाकर सम्मान किया गया। ठेठ राजस्थानी संस्कृति से जुड़े भजनों के इस कार्यक्रम में बद्री व्यास और उनके सहयोगियों ने एक से बढ़कर एक अपने भजनों की शानदार प्रस्तुति से लोगों का मन मोह लिया। इससे पहले कार्यक्रम की शुरुआत के दौरान समाजसेवी स्वर्गीय कमल आलमपुरिया के निधन पर एक मिनट के मौन प्रार्थना के साथ संगम और उपस्थित भक्तों की तरफ से भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई इस दुःखद घटना को लेकर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए कार्यक्रम में कटौती करते हुए इसे दो घंटे का किया गया और भंडारे के कार्यक्रम को इस दौरान रद्द कर दिया गया।कार्यक्रम को सफल बनाने में अजीत महेश्वरी,जगदीश धुत,विनोद गुजराणी,मुकेश पोद्दार,अरुण नागरका,सुरेश शर्मा के साथ सभी भक्तों का योगदान सराहनीय रहा। कार्यक्रम में इस दौरान श्री जैन श्वेतांबर तेरापंथी सभा के अध्यक्ष जीवनमल सुराणा, मारवाड़ी पंचायत के सचिव रतन जाजोदिया और नगांव जिला माहेश्वरी सभा के अध्यक्ष राजेंद्र मूंदड़ा के साथ अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

%d bloggers like this: