मणिपुर के सीएम बीरेन सिंह बोले- असम में अवैध मदरसों के खिलाफ कार्रवाई सही, मैं अगर होता तो यही करता

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली । मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने असम में तीन मदरसा ढहाए जाने पर सीएम हिमंत विश्व शर्मा की तारीफ की है। बीरेन सिंह ने कहा कि भाजपा वैध मदरसा के खिलाफ नहीं है, लेकिन अवैध मदरसों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि वह भी अगर असम के सीएम होते तो ऐसा ही कदम उठाते।

बीरेन सिंह ने कहा, ‘मुख्यमंत्री मदरसे के संबंध में असम में जो कर रहे हैं वह सही है। जिन्हें अदालतों का रुख करना है, वे कर सकते हैं, यह लोकतंत्र है। अगर मैं असम का मुख्यमंत्री होता तो मैं भी वही कार्रवाई करता।’

असंवैधानिक गतिविधि में शामिल लोगों पर नकेल कसने की जरूरत :
विपक्षी पार्टी कांग्रेस शर्मा की कार्रवाई का विरोध कर रही है। इस पर बीरेन सिंह ने कहा कि शर्मा राज्य की राजनीतिक जनसांख्यिकी को समझते हैं और उसी के अनुसार काम कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा, ‘ हिमंत एक अनुभवी राजनेता हैं जो जमीनी स्तर से जुड़े हुए हैं। वह वहां की राजनीतिक जनसांख्यिकी को समझते हैं। वह उसी के अनुसार काम कर रहे हैं। हमने मणिपुर में मदरसों को सामान्य शिक्षा प्रदान करने का निर्देश दिया था।’ उन्होंने कहा कि असंवैधानिक गतिविधियों में शामिल लोगों पर नकेल कसने की जरूरत है।

मणिपुर के सीएम ने आगे कहा, ‘गैर-मान्यता प्राप्त और अनधिकृत मदरसों की पहचान करने की जरूरत है। भारत के लोकतंत्र का अनुचित फायदा उठाया गया। भाजपा सरकारें कानूनी मदरसों के खिलाफ नहीं हैं, बल्कि अवैध मदरसों के खिलाफ हैं। असंवैधानिक गतिविधियों को करने वालों पर कार्रवाई की जरूरत है।’

‘अल-कायदा के दफ्तर थे ध्वस्त मदरसे’ :
इससे पहले हिमंत विश्व शर्मा ने कहा कि सभी ध्वस्त मदरसे मदरसे नहीं बल्कि अल-कायदा कार्यालय थे। हमने 2-3 मदरसों को ध्वस्त कर दिया और अब जनता दूसरों को ध्वस्त करने के लिए आ रही है।

%d bloggers like this: