असम में तटबंध में अवैध कटाव करने पर सख्ती से निपटा जाएगा: पीयूष

थर्ड आई न्यूज

गुवाहाटी, 19 सितंबर I असम के जल संसाधन मंत्री पीयूष हज़ारिका ने सोमवार को विधानसभा में कहा कि तटबंधों के कटाव में लिप्त लोगों से सख्ती से निपटा जाएगा। हजारिका ने सदन से आग्रह किया कि वह यह संदेश भेजने के लिए एकजुट हों कि तटबंधों की स्थिरता को प्रभावित करने वाले किसी भी कदम को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा I

प्रश्नकाल के दौरान तटबंधों पर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए मंत्री ने इस साल कछार जिले के बैठकुंडी में तटबंध में आई दरार का जिक्र किया जिसकी वजह से सिलचर में शहरी इलाकों में बाढ़ आ गई थी।

उन्होंने कहा कि तटबंध में कटाव करने के आरोप में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया। तटबंध में कटाव की वजह से सिलचर में करीब दो हफ्तों तक पानी भरा रहा।

मंत्री ने कहा, “ सदन को यह कड़ा संदेश देना चाहिए कि बिना इजाजत के तटबंध में कटाव नहीं किया जा सकता है और अगर कोई ऐसा करते हुए पाया जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।”

हज़ारिका ने कहा कि अगर बाढ़ की स्थिति को कम करने के लिए तटबंध में कटाव करने की जरूरत पड़ती है तो ही अधिकारियों की इजाजत से ऐसा किया जा सकता है, लेकिन कोई भी व्यक्ति बिना अनुमति के तटबंध में कटाव नहीं कर सकता है।

कांग्रेस विधायक और विपक्ष के उप नेता रकीबुल हुसैन ने मंत्री के इस तर्क का समर्थन किया कि बिना इजाजत तटबंध में कटाव की इजाजत नहीं दी जा सकती है।

%d bloggers like this: