गुजरात : हादसे के बाद मोरबी का दर्द बांटने पहुंचे पीएम मोदी, सीएम के साथ घटनास्थल का लिया जायजा

थर्ड आई न्यूज

गांधीनगर । गुजरात के मोरबी में हुए हादसे के बाद पीड़ितों का दर्द बांटने के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मोरबी पहुंचे। पीएम मोदी के मोरबी पहुंचने की कुछ तस्वीरें सामनेे आई हैं। इन तस्वीरों में पीएम मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के साथ घटनास्थल का जायजा लेते नजर आ रहे हैं। मोरबी ब्रिज के पास घटनास्थल का जायजा लेने के बाद पीएम मोदी मोरबी सिविल अस्पताल पहुंचे। यहां पीएम मोदी इस हादसे के पीड़ितों के आंसू पोंछने के लिए आए हैं। सिविल अस्पताल में पीएम नरेंद्र मोदी ने हादसे में घायल लोगों से मिलकर उनका हालचाल जाना।मोरबी आने के बाद पीएम मोदी ने झुलते पुल के पास हुए हादसे की जगह का मुआयना किया।

पीएम नरेंद्र मोदी ने राहत और बचाव कार्य में सहायता करने वाली विभिन्न टीमों और अन्य लोगों से मुलाकात की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अस्पताल पहुंच कर घायलों का हालचाल लिया। पीएम मोदी ने सभी रेस्क्यू टीम के सदस्यों से पूछताछ की है। पीएम मोदी ने इस हादसे में मारे गये लोगों के प्रति संवेदना प्रकट की है। यह बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अस्पताल में जाकर घायलों से हालचाल लिया और उनसे यह पूछा कि किस तरह से उनका इलाज चल रहा है। एक पीएम के सिविल अस्पताल में जाने की जो तस्वीर सामने आई है उसमें नजर आ रहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी अस्पताल की बेड पर लेटे एक मरीज से कुछ बातचीत कर रहे हैं।

बता दें कि मोरबी में हादसे के बाद से सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी है। 36 घंटे से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। लेकिन सर्च ऑपरेशन यहां पर अभी भी जारी है। यह कोशिश की जा रही है कि सर्च ऑपरेशन के जरिए लापता लोगों को तलाशा जा सके। कुछ मीडिया रिपोर्ट में यह कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुलिस अधीक्षक के कार्यालय भी पहुंचे हैं। एसपी कार्यालय में 26 वैसे परिवार के लोग मौजूद हैं जिनके घर के सदस्यों ने िस हादसे में अपनी जान गंवाई है। ऐसी उम्मीद है कि पीएम मोदी यहां ब्रिज हादसे को लेकर चल रही जांच की प्रगति की भी जानकारी ले सकते हैं।

बता दें कि इस मामले में अब तक पुलिस ने 9 लोगों को गिरफ्तार किया है। लेकिन यह सवाल उठ रहे हैं कि जिन लोगों पर कार्रवाई की गई है वो छोटी मछली हैं। किसी बड़े लेवल पर कार्रवाई अभी तक नहीं हुई है। गुजरात के आपदा प्रबंधन मंत्री राजेंद्र त्रिवेदी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रत्येक मृतक के परिवारों को 4 लाख रुपये और पीएमएनआरएफ से प्रत्येक को दो लाख रुपये, प्रत्येक घायल को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी। 17 लोग अस्पताल में भर्ती हैं जबकि दो लोग लापता हैं।

गुजरात सरकार के मंत्री राजेंद्र त्रिवेदी ने मंगलवार को कहा कि मोरबी पुल हादसे में मारे गए लोगों की संख्या बढ़कर 135 हो गई है और अब तक 170 अन्य को बचा लिया गया है। अधिकारियों ने कहा कि सशस्त्र बलों, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और अन्य एजेंसियों द्वारा मच्छु नदी में बचाव अभियान अभी जारी है। राजकोट रेंज के महानिरीक्षक (आईजी) अशोक कुमार यादव ने सोमवार को कहा था कि रविवार शाम को मोरबी में पुल के टूटकर गिरने से 134 लोगों की मौत हो गई।

गुजरात के कैबिनेट मंत्री त्रिवेदी ने मंगलवार को कहा कि अब तक बचाव दलों ने 135 शव बरामद किए हैं, जबकि नदी में गिरे करीब 170 लोगों को जिंदा बचा लिया गया है। मंत्री ने राज्य की राजधानी गांधीनगर में संवाददाताओं से कहा कि सभी मृतकों के परिजनों को पहले ही गुजरात सरकार द्वारा घोषित चार-चार लाख रुपये का मुआवजा दिया जा चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित दो-दो लाख रुपये का मुआवजा जल्द ही उनके बैंक खातों में डीबीटी (प्रत्यक्ष बैंक अंतरण) के माध्यम से जमा किया जाएगा ।

%d bloggers like this: