अल्फा (आई) ने ली असम के तिनसुकिया में सेना पर हमले की जिम्मेदारी

थर्ड आई न्यूज

तिनसुकिया. प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन ‘यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम-इंडिपेंडेंट’ (अल्फा-आई) ने कल तिनसुकिया जिले में सेना पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली है. आज यानी मंगलवार को अल्फा (आई) ने ई-मेल में बयान जारी कर भारतीय सेना के गश्ती दल पर हमले की जिम्मेदारी ली. ई-मेल सामने आने के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं. घटना संभावित क्षेत्रों में गश्त बढ़ा दी गई है. सुरक्षा बलों को भी सक्रिय कर दिया गया है.

गौरतलब है कि कल यानी सोमवार को असम के तिनसुकिया में अज्ञात उग्रवादियों ने सेना के काफिले पर हमला कर दिया था. कल सुबह करीब 9 बजकर 20 मिनट पर तिनसुकिया जिले के डिगबोई-पेंगरी इलाके में जगंल से सेना के बुलेट प्रूफ वाहन पर फायरिंग की गई थी. बोरपथार इलाके में जब सेना के जवान गश्त कर रहे थे, उस दौरान यह गोलीबारी की गई. इसके जवाब में सेना ने भी पलटवार किया. सेना की तरफ से ताबड़तोड़ फायरिंग की गई. जिसके बाद आतंकी मौके से भाग निकले. सेना और आतंकियों की इस मुठभेड़ में कोई भी हताहत नहीं हुआ था.

कल से ही सर्च अभियान चला रही सेना :
तिनसुकिया के एसपी अभिजीत गुरव ने बताया कि गश्त कर रहे सेना के जवानों पर अज्ञात आतंकियों ने हमला किया. सेना भी जवाबी कार्रवाई की, जिसके बाद आतंकी भाग खड़े हुए. हमले में किसी को भी गंभीर चोटें नहीं आईं. सेना ने सर्च अभियान शुरू किया है. सुरक्षा एजेंसियां कल से तलाशी अभियान चला रही हैं. सेना द्वारा हमले की जानकारी एकत्रित की जा रही है. कल से ही यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि यह हमला किसने किया. जिसके बाद आज उग्रवादी संगठन अल्फा(आई) ने हमले की जिम्मेदारी ली है. हालांकि अल्फा (आई) द्वारा हमले की जिम्मेदारी लिए जाने के बाद सेना की तरफ से अभी तक कोई बयान नहीं जारी किया गया है.

%d bloggers like this: