Pm Modi-Rishi Sunak: पीएम मोदी ने की मुलाकात और बन गया काम, ऋषि सुनक ने भारत के हक में लिया बड़ा फैसला

थर्ड आई न्यूज

लंदन I इंडोनेशिया के बाली में G-20 समिट के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की मुलाकात के बाद भारतीय नागरिकों के हक में अच्छी खबर आई है। दरअसल, पीएम मोदी से मुलाकात के बाद ऋषि सुनक ने भारत के युवा पेशेवरों को हर साल ब्रिटेन में काम करने के लिए 3,000 वीजा देने की हरी झंडी दे दी है। ब्रिटिश सरकार ने कहा कि भारत इस तरह की योजना से लाभान्वित होने वाला पहला वीजा-राष्ट्रीय देश है, जो पिछले साल ब्रिटेन-भारत प्रवासन और गतिशीलता साझेदारी की ताकत पर प्रकाश डालता है।

ब्रिटिश पीएमओ ने किया ट्वीट :
वहीं इस फैसले के बाद ब्रिटिश प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आज ब्रिटेन-इंडिया यंग प्रोफेशनल्स स्कीम की पुष्टि की गई, जिसमें 18-30 वर्षीय डिग्री-शिक्षित भारतीय नागरिकों को 3,000 स्थानों की पेशकश की गई, ताकि वे ब्रिटेन में आकर दो साल तक रह सकें और काम कर सकें।

भारत और ब्रिटेन के बीच रिश्ते के लिहाज से यह घोषणा बेहद अहम :
वहीं डाइनिंग स्ट्रीक की ओर से बयान जारी करके कहा गया है कि भारत और ब्रिटेन के बीच रिश्ते के लिहाज से यह योजना काफी महत्वपूर्ण है। ब्रिटेन का भारत के साथ इंडो पैसिफिक रीजन के अन्य देशों की तुलना में कहीं अधिक गहरा संबंध है। ब्रिटेन में तकरीबन एक चौथाई अंतरराष्ट्रीय छात्र भारत के हैं, भारतीय निवेश से यूके में 95 हजार रोजगार का सृजन होता है।

जानें भारत को लेकर सुनक का रुख क्या है?
मीडिया में आए सुनक के बयानों से पता चलता है कि वह भारत के साथ मुक्त व्यापार संबंध के समर्थक रहे हैं। एक अंग्रेजी अखबार से बात करते हुए सुनक ने कहा था कि दोनों देशों में रोजगार पैदा करने और भारत के लिए अपने कंज्यूमर फाइनेंशियल सर्विस इंडस्ट्री को लचीला बनाने के लिए ब्रिटेन, भारत के साथ एफटीए के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। सुनक ने कार्बन उत्सर्जन नेट जीरो एंबिशन के लक्ष्य को पूरा करने के लिए भारत को क्लाइमेट फाइनेंस की सुविधा प्रदान करने की भी बात कही थी।

%d bloggers like this: