Meghalaya Politics: मेघालय में अकेले लड़ेगी NPP, सीएम कॉनराड संगमा ने किया ऐलान, करते रहेंगे NDA का भी समर्थन

थर्ड आई न्यूज

नई दिल्ली l मेघालय के सीएम कॉनराड संगमा ने रविवार को कहा कि मेरी पार्टी नेशनल पीपुल्स पार्टी अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी। एएनआई से बात करते हुए संगमा ने कहा, ‘हम आगामी राज्य चुनावों में अकेले उतरेंगे। हम पहले के चुनाव में भी अकेले लड़े थे, लेकिन एनडीए को हमारा समर्थन जारी रहेगा। मेघालय की 60 विधानसभा सीटों में से अब तक हमने 58 सीटों पर अपनी पार्टी के उम्मीदवारों को अंतिम रूप दे दिया है।”

मेघालय में टीएमसी के बारे में बात करते हुए कॉनराड संगमा ने कहा कि टीएमसी आगामी राज्य विधानसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाएगी।संगमा ने कहा कि कांग्रेस विधायकों के टीएमसी में शामिल होने के बाद टीएमसी मेघालय में मुख्य विपक्षी पार्टी बन गई। विपक्ष एकजुट नहीं था और टीएमसी भी अब गुटों में बटती जा रही है। मुझे नहीं लगता कि टीएमसी आगामी चुनावों में कोई अच्छा परिणाम दिखा पाएगी।

इस दौरान उन्होंने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के बारे में भी बात की। संगमा ने कहा कि केंद्र को सीएए के दायरे में पूर्वोत्तर के अधिक क्षेत्रों को छूट देनी चाहिए। मेघालय में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद अभिषेक बनर्जी गुरुवार को पूर्वोत्तर राज्य दौरे पर गए थे।

2018 में कांग्रेस ने जीतीं थीं सबसे अधिक सीटें :
27 अगस्त, 2022 में संगमा ने राष्ट्रीय राजधानी में एनपीपी राष्ट्रीय समिति की बैठक के बाद मीडिया से कहा से बात की थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि एनपीपी ने 2018 में अपनी रणनीति के तहत काम किया था। उस दौरान कांग्रेस ने जहां सबसे ज्यादा 21 सीटें जीती थीं, वहीं एनपीपी के पास 19 और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के पास दो सीटें थीं। एनपीपी ने भाजपा की मदद से सरकार बनाई।

बता दें, तृणमूल कांग्रेस पिछले साल नवंबर में मेघालय विधानसभा में मुख्य विपक्षी पार्टी बन गई थी, तब राज्य में कांग्रेस के 17 विधायक ममता बनर्जी की पार्टी में शामिल हो गये थे। दरअसल, 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस विभिन्न राज्यों में अपनी पैठ जमाने की कोशिश कर रही है।

%d bloggers like this: