Covid Vaccination: निजी अस्पतालों में पैसे देकर लगती रहेगी वैक्सीन, लेकिन 150 रुपये से ज्यादा नहीं होगा सरचार्ज

नई दिल्ली, एजेंसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार शाम को देश के नाम संबोधन में बड़ी घोषणा की। इसमें कहा कि 21 जून से देश के हर राज्य में 18 वर्ष से ऊपर की उम्र के सभी नागरिकों के लिए, भारत सरकार राज्यों को मुफ्त वैक्सीन मुहैया कराएगी। वैक्सीन निर्माताओं से कुल वैक्सीन उत्पादन का 75 प्रतिशत हिस्सा भारत सरकार खुद ही खरीदकर राज्य सरकारों को मुफ्त देगी।

पीएम मोदी ने कहा कि जो लोग पैसे देखकर वैक्सीन लगवाना चाहते हैं वो लोग ऐसा कर सकते हैं। निजी अस्पतालों में पैसे देकर वैक्सीनेशन भी जारी रहेगा लेकिन इस दौरान अस्पतालों में सरचार्ज 150 रुपये से ज्यादा नहीं होगा।

पीएम मोदी ने राज्यों को आईना दिखाते हुए कहा कि देश में सवाल उठ रहे थे कि वैक्सीनेशन के लिए ऐज ग्रुप क्यों बनाए गए, उम्र की सीमा केंद्र क्यों तय कर रहा है. देश के मीडिया के एक वर्ग ने इसे कैंपेन के रूप में भी चलाया गया। इसके बाद चर्चा की गई और राज्यों की मांग को देखते हुए इस साल 16 जनवरी से चली आ रही व्यवस्था में बदलाव किया गया।

पीएम मोदी ने कहा कि हमने टीकाकरण का 25 प्रतिशत काम राज्यों को सौंप दिया। एक मई से राज्यों को काम 25 प्रतिशत सौंप दिए गए। राज्यों ने भी प्रयास भी किया। ऐसे में उन्हें इस काम की कठिनाई का पता चला कि वैक्सीन की विश्व में क्या स्थिति है, इससे राज्य भी परिचित हुए। इसके बाद कई राज्यों ने कहा कि पहले जैसी ही व्यवस्था लागू होनी चाहिए।

One thought on “Covid Vaccination: निजी अस्पतालों में पैसे देकर लगती रहेगी वैक्सीन, लेकिन 150 रुपये से ज्यादा नहीं होगा सरचार्ज

  1. ये सरचार्ज का मतलब वैक्सीन को अपने पास रखना, तथा इंजेक्ट करना है क्या? फिर वैक्सीन की कीमत क्या है।

Comments are closed.

%d bloggers like this: