असम : डिब्रूगढ़ के बाद अब जोरहाट में सामने आया रैगिंग का मामला, 12 छात्रों के खिलाफ एआईआर

थर्ड आई न्यूज

गुवाहाटी I असम में एक के बाद एक लगातार रैगिंग के मामले सामने आ रहे हैं। डिब्रूगढ़ यूनिवर्सिटी में सामने आए दो रैगिंग मामलों पर विवाद अभी थमा नहीं है कि जोरहाट के एक कॉलेज में रैगिंग करने और उसे छिपाने के लिए दबाव बनाने का मामला सामने आया है। एक पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि असम के जोरहाट जिले के एक प्रमुख कॉलेज द्वारा एक जूनियर हॉस्टल के छात्र की रैगिंग करने और शिकायत वापस लेने के लिए दबाव डालने के आरोप में 12 छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है।

उन्होंने कहा कि पुलिस ने जांच शुरू कर दी है, हालांकि अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। जगन्नाथ बरुआ (जेबी) कॉलेज के प्रिंसिपल ने पीड़ित छात्र के लिखित बयान के आधार पर गुरुवार को जोरहाट पुलिस स्टेशन में 12 आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। यह मामला डिब्रूगढ़ में कथित रैगिंग की दो घटनाओं के बाद सामने आया है।

जेबी कॉलेज की घटना का ब्योरा देते हुए पुलिस अधिकारी ने कहा कि हमें शिकायत गुरुवार शाम को मिली। इसे देखने के बाद हमने एआईआर दर्ज की। एआईआर में संस्थान के आठ वर्तमान और एक पूर्व छात्रों को रैगिंग में शामिल होने के आरोप में नामजद किया गया है। कॉलेज के अधिकारियों से अपनी प्रारंभिक शिकायत वापस लेने के लिए छात्र पर कथित रूप से दबाव बनाने के लिए तीन अन्य व्यक्तियों का नाम लिया गया है।

कॉलेज के अधिकारियों ने कहा कि तीन वर्षीय डिग्री कोर्स के पहले सेमेस्टर के छात्र ने सितंबर की शुरुआत में सैयद अब्दुल मलिक छात्रावास के अधिकारियों से शिकायत के की थी और उसने हॉस्टल छोड़ दिया। छात्र ने तीन दिन पहले फिर से अधिकारियों से शिकायत दी है, इसलिए एआईआर कराई गई है और एंटी-रैगिंग कमेटी को जांच सौंपी गई है। कमेटी सप्ताहभर में रिपोर्ट देगी।

%d bloggers like this: