मारवाड़ी सम्मेलन नगांव शाखा का”समन्वय” कार्यक्रम संपन्न

थर्ड आई न्यूज

नगांव। मारवाड़ी सम्मेलन, नगांव शाखा द्वारा रविवार दिनांक 15 जनवरी को नगांव के श्री गोपाल गौशाला में असमिया संस्कृति एवं राजस्थानी संस्कृति की एकजुटता की मिसाल कायम करने हेतु “समन्वय” शीर्षक भोगाली बिहू उद्यापन का आयोजन बहुत ही सुंदर रूप से किया गया। सर्वप्रथम अग्नि पूजा के तहत भेला घर मेजी बनाकर उसकी विधिवत पूजा विशिष्ट साहित्यकार उपेंद्र बोरकोटोकी द्वारा करवा कर मेजी प्रज्वलन किया गया।
इसके बाद कुल 31 झंडों का झंडोत्तोलन किया गया, जिसमें मुख्य रुप से बरहमपुर समष्टि के विधायक जीतू गोस्वामी, विश्वनाथ कॉलेज के अध्यक्ष चिंतामणि शर्मा, प्राण बरुआ, पूर्व विधायक गिरिन बरुआ, ध्रुब शर्मा,बोलिन भूयाँ, बलदेव शर्मा, परान महंत, सरदार सुरेंद्र सिंह, हेमा झँवर,गोशाला के अध्यक्ष सांवरमल खेतावत, विजय कुमार मंगलुनिया, बजरंग लाल अग्रवाल, मानक चंद नाहटा, जीवन मल सुराना, रामप्रसाद खेतान एवं कई गणमान्य व्यक्तियों द्वारा झंडोत्तोलन का कार्य संपादित किया गया।

इस कड़ी में मंच पर सर्वप्रथम असम रत्न ज्योति प्रसाद अगरवाला के चित्र के सम्मुख अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलन कर श्रद्धांजलि अर्पित करने के साथ अध्यक्ष द्वारा स्वागत भाषण प्रस्तुत कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। श्रद्धा गुजरानी द्वारा धार्मिक स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। विधायक जीतू गोस्वामी , नगांव मारवाड़ी पंचायत के अध्यक्ष प्रह्लाद राय तोदी के साथ-साथ कई गणमान्य अतिथियों का अभिनंदन किया गया। सभी ने अपने संबोधन में सम्मेलन द्वारा भोगाली बिहू कार्यक्रम की भूरि भूरि प्रशंसा की।

कार्यक्रम के दौरान मंच पर असम साहित्य सभा के पूर्व उपाध्यक्ष उपेंद्र बोरकटकी देव का नागरिक अभिनंदन किया गया तथा समाजसेवी श्याम सुंदर भीमसरिया एवं पंडित हरिप्रसाद शास्त्री का अभिनंदन किया गया, सभी को फुलाम गमछा, सेलेंग, जापी, मोमेंटो एवं अभिनंदन पत्र प्रदान किया गया । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रूपक शर्मा का भी स्वागत एवं अभिनंदन किया गया। विधायक रूपक शर्मा ने बिहु गान और नृत्य में शामिल होकर सभी कलाकारों का हौसला बढ़ाया। नगाव पौर सभा के उपाध्यक्ष सीमान्त बोरा,बिहु सम्राट के नाम से विख्यात गायक कृष्णमोनी नाथ का भी फुलाम गमछा से अभिनंदन किया गया। असम लोक सेवा आयोग की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले नगांव के होनहार पीयूष गाड़ोदिया का भी फुलाम गमछा एवं मोमेंटो प्रदान कर अभिनंदन किया गया। इसी दौरान गुवाहाटी में प्रांत स्तर पर आयोजित गायन एवं नृत्य प्रतियोगिताओं मे नगांव के विजेता एवं उप विजेताओं को भी फुलाम गमछा एवं मोमेंटो प्रदान कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान प्रिंट मीडिया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकारों का भी सम्मान किया गया।
सांस्कृतिक कार्यक्रम की कड़ी में समाज की महिलाओं द्वारा किया गया बिहू नृत्य सभी के द्वारा सराहा गया छोटे-छोटे बच्चों द्वारा प्रस्तुत बिहू नृत्य ने सभी का मन मोह लिया वही करण मोर एवं कार्तिक मोर द्वारा प्रस्तुत नृत्य ने काफी वाहवाही लूटी युवतियों व महिलाओं द्वारा असम एवं राजस्थानी संस्कृति के मिश्रण भरे नृत्य ने सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया। गायन में असम के लोकप्रिय गायक कलाकार कृष्णमनी नाथ के साथ ही समाज के संदीप पारीक , शीतांशु केजरीवाल ,निर्मला आलमपुरिया, मनोज पारीक ने भी एक से बढ़कर एक बिहू के गीत प्रस्तुत कर कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए। कार्यक्रम में समाज के विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारियों, समाज बंधु, महिलाओं, बच्चों के साथ असमिया समाज के भी काफी संख्या में लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई
कार्यक्रम के संयोजक अनिल शर्मा थे जबकि सांस्कृतिक कार्यक्रम के संयोजक निर्मला आलमपुरिया थी। मंच संचालन अनिल शर्मा एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का संचालन निर्मला अलमपुरिया ने किया । धन्यवाद ज्ञापन ज्ञापन के साथ कार्यक्रम को विराम दिया गया आयोजन को सफल बनाने में मारवाड़ी सम्मेलन के सदस्य और पदाधिकारियों की भूमिका सराहनीय रही।

%d bloggers like this: