Exclusive | सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर ठगी। ठग राज बोरा उर्फ़ बाहरुल इस्लाम को पुलिस ने धर दबोचा

थर्ड आई न्यूज़, गुवाहाटी | १२ अगस्त- ०९/०८/२०२१ को डीसीपी (अपराध) कार्यालय, गुवाहाटी कमिश्नरी को एक नबोनिता कोच डब्ल्यू/ओ लेफ्टिनेंट बिराज ज्योति कोच, वन गेट, नूनमती से एक मौखिक शिकायत प्राप्त हुई थी कि एक व्यक्ति, जिसने खुद को राज के रूप में पेश किया था बोरा ने अपनी बेटी के लिए पीडब्ल्यूडी विभाग में एलडीए (लोअर डिवीजनल असिस्टेंट) की नौकरी दिलाने के वादे से 3 लाख रु. लिए थे। राज बोरा ने 2 लाख रु. अपने नूनमती स्थित घर पर और शेष 1 लाख लास्ट गेट, दिसपुर में लिए। शिकायतकर्ता के पास केवल जालसाज का मोबाइल नंबर था और कोई अन्य विवरण नहीं था।

प्राथमिकी संख्या 499/21 यू/एस 420/506/294/509 आईपीसी के तहत नूनमती थाने में मामला दर्ज किया गया और अपराध शाखा की टीम हरकत में आई।

मोबाइल नंबर के शुरुआती तकनीकी विश्लेषण से कई ऐसे लोगों का पता चला, जिन्हें जालसाज नौकरी हड़पने के लिए ठगने की कोशिश कर रहा था, लेकिन उसने अपनी असली पहचान नहीं बताई। हालांकि, यह अग्रिम तकनीकी विश्लेषण था जिसने 11/08/21 को सतगांव पीएस क्षेत्र से अपराधी की पहचान और उसकी गिरफ्तारी को कम कर दिया। शिकायत मिलने के 48 घंटे के भीतर।

खुद को राज बोरा कहने वाले जालसाज का असली नाम बहरुल इस्लाम पुत्र जफर अहमद, एच/नंबर-118, अंबारी, पीएस-सतगांव निकला।

%d bloggers like this: