Black Money Case | आम्रपाली के 9,538 फ्लैट बेनामी, बुकिंग रद्द करने की प्रक्रिया शुरू। आइये जानते हैं क्या है सारा मामला

थर्ड आई न्यूज़, ऑनलाइन डेस्क। उच्चतम न्यायालय ने आम्रपाली परियोजना के उन 9500 से अधिक फ्लैट्स की बुकिंग रद्द करने की प्रक्रिया शुरू की कर दी है जिन पर कोई दावा नहीं किया गया है या जिन्हें फर्जी व्यक्तियों के नाम पर बुक किया गया है या जो बेनामी संपत्ति है।

इससे अटकी परियोजनाओं के वित्तपोषण में मदद मिलेगी। उच्चतम न्यायालय ने कहा कि वह निर्देश देगा कि 9 हजार 538 खरीदारों को अपना पंजीकरण अपडेट करने और भुगतान करने के लिए 15 दिन का नोटिस जारी किया जाए। ऐसा नहीं करने पर इन इकाइयों को बिना बिका माना जाएगा और उनकी नीलामी की जाएगी।

लंबित परियोजनाओं के लिए वित्त जुटाने में काम आएगा पैसा

घर खरीदारों की ओर से पेश हुए वकील एमएल लाहोटी ने कहा कि घर खरीदारों ने पहले दिए गए एक नोट में कहा था कि बिना बिके फ्लैट और फर्जी नामों पर बुक किए गए फ्लैट जिनकी फॉरेंसिक ऑडिट में पहचान की गई है, उन्हें लंबित परियोजनाओं के लिए वित्त जुटाने की खातिर दोबारा बेचने की जरूरत है।

खरीदारों को अंतिम नोटिस भेजे जाएंगे

इसके बाद न्यायमूर्ति यूयू ललित और न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी की पीठ ने कहा कि वह इस विषय पर एक आदेश पारित करेगी। यह आदेश अभी तक उच्चतम न्यायालय की वेबसाइट पर अपलोड नहीं किया गया है। पीठ ने लाहोटी की दलील से सहमति जताते हुए कहा कि इस तरह के खरीदारों को अंतिम नोटिस भेजे जाएंगे और उन से पंजीकरण कराने तथा भुगतान योजना के अनुरूप सभी बकाए का भुगतान करने को कहा जाएगा। ऐसा ना होने पर उनकी संपत्ति को बिना बिका हुआ माना जाएगा और उनकी बुकिंग रद्द कर दी जाएगी।

%d bloggers like this: