मेघालय : एमएचआरसी ने चेस्टरफील्ड की मौत का स्वत: संज्ञान लिया; 15 दिन के अंदर मांगी रिपोर्ट

Meghalaya Human Rights Commission serves notice to government -  Sentinelassam

थर्ड आई न्यूज़, शिलांग| मेघालय मानवाधिकार आयोग (एमएचआरसी), शिलांग ने पिछले शुक्रवार को चेस्टरफील्ड थांगख्यू की मौत के संबंध में स्वत: संज्ञान लिया है. मीडिया में प्रकाशित समाचारों का हवाला देते हुए एमएचआरसी ने दावा किया कि समाचार रिपोर्ट में अन्य बातों के साथ-साथ इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि चेस्टरफील्ड थांगखियू (56), हिनीवट्रेप नेशनल लिबरेशन काउंसिल (एचएनएलसी) का पूर्व स्वयंभू महासचिव मेघालय पुलिस द्वारा जवाबी गोलीबारी में मारा गया था.

आयोग का कहना है कि ऐसा प्रतीत होता है कि इस मामले में मानवाधिकार का घोर उल्लंघन हुआ है, जो संविधान के अनुच्छेद 21 के अनुसार भारत के प्रत्येक व्यक्ति के लिए जीवन और व्यक्तिगत स्वतंत्रता की सुरक्षा के लिए अनिवार्य है.

आयोग ने मेघालय सरकार के मुख्य सचिव को नोटिस मिलने के 15 दिनों के भीतर घटना की विस्तृत रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है. आयोग ने आगे उल्लेख किया कि यदि घटना की विस्तृत रिपोर्ट संतोषजनक नहीं पाई जाती है, तो एमएचआरसी इस मामले में अपनी जांच का निर्देश देगा.

%d bloggers like this: