काबुल से उड़ते ही भारत माता की जय से गुंजायमान विमान, मौत के मुंह से निकलने की खुशी

थर्ड आई न्यूज़, काबुल | अफगानिस्तान अब तालिबानी कब्जे में है। वहां रह रहे हर भारतीय भी अब स्वदेश लौटना चाहते हैं। सरकार ने भी कोशिशें तेज कर दी है। अब हर दिन दो विमान भेजने की तैयारी है, जिसकी इजाजत अमेरिका ने दे दी है। आपको बता दें कि काबुल एयरपोर्ट फिलहाल पूरी तरह से अमेरिकी सैनिकों के कंट्रोल में है। विदेश मंत्री एस जयशंकर की पहल पर अमेरिका ने रोजाना दो भारतीय विमानों की लैंडिंग और उड़ान की मंजूरी दी है। शनिवार को भी भारतीयों का एक जत्था भारत लौटा है। संकटग्रस्त अफगानिस्तान से लौटना मानो मौत के मुंह से लौटने जैसी बात है। इस कारण उनकी खुशी देखते ही बन रही थी। काबुल से निकाले गए भारतीयों ने विमान में ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट कर कहा, “जुबिलेंट अपने घर की की यात्रा पर ।

आपको बता दें कि शनिवार को 87 भारतीयों और 2 नेपाली नागरिकों को लेकर फ्लाइट काबुल से भारत के लिए उड़ान भरी। बीच में ईंधन के लिए ताजिकिस्तान में लैंडिंग हुई थी। बागची ने ट्वीट कर कहा, “अफगानिस्तान से भारतीयों को घर लाना! AI 1956 विमान 87 भारतीयों को लेकर ताजिकिस्तान से नई दिल्ली के लिए रवाना हुआ है। दो नेपाली नागरिकों को भी निकाला गया।

काबुल से भारतीयों को लाने के लिए अब हर दिन दो उड़ानें

अफगानिस्तान में फंसे भारतीयों की सुरक्षित वापसी के लिए भारत को प्रतिदिन दो उड़ानें संचालित करने की अनुमति दे दी गई है। सरकारी सूत्रों ने बताया कि काबुल हवाई अड्डे से दो भारतीय विमानों को संचालित करने की अनुमति दी जाएगी। 15 अगस्त को अफगानिस्‍तान पर कब्‍जा जमाने के बाद काबुल के हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के संचालन और नियंत्रण की जिम्‍मेदारी अमेरिकी और उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) बलों को दी गई है। उनके द्वारा कुल 25 उड़ानें संचालित की जा रही हैं, क्योंकि वे वर्तमान में अपने नागरिकों, हथियारों और उपकरणों को निकालने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

आज भारत पहुंचेगा विमान
अब तक काबुल से लगभग 300 नागिरकों को वापस लाया जा चुका है। भारत इस समय ताजिकिस्तान और कतर के रास्ते से अपने नागिरकों को एयरलिफ्ट कर रहा है। बता दें कि भारत सी-130जे विमान से काबुल से भारतीयों को वापस ला रहा है। विमान आज दिल्ली के निकट हिंडन वायुसैनिक अड्डे पर पहुंचेगा।

विमान के उड़ते ही ईश्वर को दिया था धन्यवाद
अफगानिस्तान में लौटे एक भारतीय नागरिक का कहना है कि अफगानिस्तान में लोगों के बीच तालिबान की काफी दहशत है। भारतीय नागरिक सुब्रत काबुल में 15 अगस्त को तालिबान के प्रवेश से कुछ घंटे पहले ही नई दिल्ली के लिए विमान में सवार हुए थे। बताया कि विमान के उड़ान भरते ही उन्होंने ईश्वर को धन्यवाद दिया था।

%d bloggers like this: