आर्थिक तंगी के चलते लखीमपुर के भाजपा कार्यकर्ता ने की खुदकुशी

थर्ड आई न्यूज़

नॉर्थ लखीमपुर. आर्थिक परेशानियों के चलते भारतीय जनता पार्टी के नॉर्थ लखीमपुर के एक कार्यकर्ता ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. मिली जानकारी के अनुसार मिठूरंजन दास ने आर्थिक तंगी के कारण खुदकुशी कर ली. दास ने 3 पन्नों का एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उन्होंने आत्महत्या के कारणों का विस्तार से वर्णन किया है. बताया जाता है कि सुसाइड नोट में दास ने लिखा कि कर्ज के दबाव के चलते उन्हें यह कदम उठाना पड़ा. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मिठूरंजन दास और उसके एक साथी ने कोरोना काल के दौरान नॉर्थ लखीमपुर के लालुक कॉलेज में बनाए गए कोविड सेंटर में भोजन सप्लाई किया था. यह काम उन्होंने ब्याज पर पैसे लेकर शुरू किया था. इसके एवज में उन्हें संबंधित विभाग से 17 लाख रुपए मिलने थे. पेमेंट मिलने में देर होने के कारण वे कर्ज के बोझ तले दबते चले गए और अंत में उन्होंने आत्महत्या कर ली. उधर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतक के घर से आवश्यक सूचनाएं जुटाई है. दास के पार्थिव शरीर को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. भाजपा सूत्रों के अनुसार दास पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल के काफी करीबी थे.

%d bloggers like this: